संपर्क मार्ग निर्माण की आस में पथरा गई आंखें

शामली जेएनएन। जलालाबाद के दकौड़ी संपर्क मार्ग से उमरपुर संपर्क मार्ग को मिलाने वाला मार्ग कई

JagranPublish: Fri, 28 Jan 2022 10:40 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 10:40 PM (IST)
संपर्क मार्ग निर्माण की आस में पथरा गई आंखें

शामली, जेएनएन। जलालाबाद के दकौड़ी संपर्क मार्ग से उमरपुर संपर्क मार्ग को मिलाने वाला मार्ग कई दशकों से निर्माण नहीं हो सका है। किसान, ग्रामीण काफी वर्षो से मार्ग के निर्माण की मांग कर रहे हैं। मार्ग निर्माण न होने से किसानों और ग्रामीणों में रोष है। कस्बे के दकौड़ी संपर्क मार्ग से नदी पुल निकट पूर्वी दिशा की ओर मार्ग उमरपुर मार्ग को जोड़ रहा है। इस मार्ग के निर्माण के लिए कई दशकों से किसान व क्षेत्र के ग्रामीण कस्बावासी मार्ग निर्माण की मांग शासन, प्रशासन से कर रहे हैं। परंतु मार्ग निर्माण की ओर शासन प्रशासन या जनप्रतिनिधियों की ओर से नहीं दिया गया है।

50 सालों से संपर्क मार्ग कच्चा है। इस मार्ग के निर्माण न होने से बरसात में जलभराव हो जाता है। जलभराव होने से किसान अपने खेतों में फसल को काटने के लिए भी पहुंच नहीं पाते है। खालिद, किसान, निवासी जलालाबाद यह मार्ग दकौड़ी व उमरपुर संपर्क मार्ग को जोड़ता है। इस मार्ग के पक्का हो जाने से यहां के किसानों को ही नहीं बल्कि क्षेत्र के दूरदराज के ग्रामीणों को भी आवागमन में सुविधा होगी। किसान खेतों से अपनी फसल को ट्रैक्टर-ट्राली में लादकर आसानी से बाहर मंडियों तक ले जा सकेंगे। इरशाद, किसान, निवासी जलालाबाद इस मार्ग के निर्माण होने से जलालाबाद क्षेत्र को ही नहीं, बल्कि सहारनपुर जनपद के निकटवर्ती गांव बड़गांव, जड़ौदा पांडा, अन्य गांव के ग्रामीणों को भी आवागमन में कस्बे तक आने में राहत मिलेगी। किसान मार्ग निर्माण को लेकर काफी सालों से शासन, प्रशासन, जनप्रतिनिधियों के सामने समस्या को रख चुके हैं। परंतु इस समस्या की ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया है। ओम प्रकाश, किसान, निवासी जलालाबाद ने कहा कि जलालाबाद में चारों ओर आसपास के संपर्क मार्गो की ओर निर्माण के लिए ध्यान दिया गया है। परंतु कस्बे की उत्तरी सीमा की ओर यह मार्ग कस्बे के बाजार अन्य व्यापारिक गतिविधियों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इस मार्ग का संयोजन जनपद सहारनपुर के बड़गांव, जड़ौदा पांडा, देवबंद क्षेत्र के गांवों तक निकट होता है। यहां के ग्रामीण कस्बे के बाजार से खरीदारी करने के लिए काफी वर्षो पहले कस्बे में इसी मार्ग से आते थे। परंतु इस मार्ग की हालत खस्ताहाल है। साइकिल,मोटर साइकिल मार्च से निकालना मुश्किल है।

---------------------

इस मार्ग की सीमा कस्बे की सीमा के अंदर नहीं है। इस मार्ग पर कूड़ा संग्रहण बनाया गया है। जहां तक डंपिग ग्राउंड बना है वहां तक सड़क का निर्माण निकाय के द्वारा करा दिया जाएगा। बाकी का मार्ग सीमा क्षेत्र से बाहर है।

विजय आनंद, अधिशासी अधिकारी, नगर पंचायत जलालाबाद

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम