गुमराह कर हापुड़ ने जाने वाले युवक पर मुकदमा

गुमराह कर हापुड़ ने जाने वाले युवक पर मुकदमा

JagranPublish: Wed, 08 Jun 2022 11:53 PM (IST)Updated: Wed, 08 Jun 2022 11:53 PM (IST)
गुमराह कर हापुड़ ने जाने वाले युवक पर मुकदमा

गुमराह कर हापुड़ ने जाने वाले युवक पर मुकदमा

जेएनएन, शाहजहांपुर : हापुड़ की पटाखा फैक्ट्री में आग लेने से कांट थाना क्षेत्र के भंडेरी गांव के दस लोगों की मृत्यु हो गई थी। मृतकों के स्वजनों ने गांव के ही एक व्यक्ति पर गुमराह कर हापुड़ ले जाकर पटाखा बनवाने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। कांट थाना क्षेत्र के भंडेरी गांव निवासी रामनरेश ने दर्ज कराए मुकदमे में बताया कि 29 दिन पहले गांव का ही अमित कुमार उसके दो भाई अनिल कुमार व प्रेमपाल को हापुड़ यह कहकर ले गया था कि वहां कास्मेटिक का सामान बनाने की फैक्ट्री में काम दिलवा देगा। आरोप है कि वहां ले जाकर अमित ने इन लोगों को अवैध रूप से संचालित पटाखा फैक्ट्री में लगवा दिया। चार जून को आग लगने से उन लोगों की मृत्यु हो गई। प्रभारी निरीक्षक मनोज त्यागी ने बताया कि इस संबंध की विस्तृत जांच हापुड़ में चल रही है। फिनहाल गुमराह कर ले जाने की जो तहरीर मिली है उसके आधार पर मुकदमा दर्ज करवा दिया गया है। मृतकों के स्वजन को दी आर्थिक मदद व राशन भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष रजनीकांत माहेश्वरी व भाजपा विधायक मानवेंद्र सिंह बुधवार को भंडेरी गांव पहुंचे। जहां मृतकों के स्वजन को सांत्वना दी। उन्हें आर्थिक मदद व खाद्यान्न भी वितरित किया। शनिवार को हापुड़ की पटाखा फैक्ट्री में आग लगने के बाद हुए धमाके में गांव के दस लोगों की मृत्यु हो गई थी। विधायक मानवेंद्र सिंह ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री को भी मदद के लिए पत्र लिखा है। वह पीड़ित परिवारों के साथ हैं। इस दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष कृष्ण चंद्र मिश्रा, महानगर अध्यक्ष अरुण गुप्ता, अरविंद सिंह, विमल बाजपेई आदि मौजूद रहे। मृतकों के स्वजन ने पांच दिन से खाना तक नहीं बनाया है। ग्राम प्रधान ने बताया कि उनकी ओर से स्कूल में सामूहिक भोजन बनवाया गया है। सीएम को भेजा पत्र असंगठित मजदूर यूनियन ने मुख्यमंत्री को संबोधित पत्र नगर मजिस्ट्रेट को दिया, जिसमें हापुड़ में हुए हादसे में मारे गए सभी 11 लोगों के स्वजन व घायलों को आर्थिक मदद, आश्रितों में एक को नौकरी समेत अन्य मांगें की हैं। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष मो. खुर्शीद आदि मौजूद रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept