चकहरेटी में विवाहिता की संदिग्ध हालात में मौत

जनकपुरी थाना क्षेत्र के गांव चकहरेटी में गुरुवार की देर रात एक विवाहिता की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। इस मामले में अभी कोई तहरीर नहीं आई है। पुलिस जांच कर रही है।

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 10:23 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 10:23 PM (IST)
चकहरेटी में विवाहिता की संदिग्ध हालात में मौत

सहारनपुर, जेएनएन : जनकपुरी थाना क्षेत्र के गांव चकहरेटी में गुरुवार की देर रात एक विवाहिता की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। इस मामले में अभी कोई तहरीर नहीं आई है। पुलिस जांच कर रही है।

जनकपुरी थाना क्षेत्र की टीपीनगर पुलिस चौकी इंचार्ज विकास यादव ने बताया कि गांव चकहरेटी निवासी विपिन की 24 साल की पत्नी आरती की गुरुवार की रात संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। पुलिस की जांच में सामने आया है कि गुरुवार की रात अचानक से महिला ने जहर खाया, जिसके बाद उसकी हालत खराब होने पर उसके परिजनों ने दिल्ली रोड स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां पर महिला की उपचार के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि विपिन और आरती की शादी को करीब तीन साल हो गए। आरती का मायका रामपुर मनिहारन थाना क्षेत्र के गांव कंजौली में है। पुलिस ने मायके पक्ष को भी विवाहिता की मौत की सूचना दे दी थी, जिसके बाद मायके पक्ष के लोग भी आ गए, लेकिन उनकी तरफ से पुलिस को कोई तहरीर नहीं दी गई।

चरस बरामद, दो को भेजा जेल

सहारनपुर : एसपी सिटी राजेश कुमार ने बताया कि देहात कोतवाली पुलिस ने चेकिग के दौरान नईम पुत्र रहीस निवासी आजाद कालोनी थाना मंडी को गिरफ्तार किया है। इसके पास से पुलिस ने 480 ग्राम चरस बरामद की है। आरोपित अपनी स्कूटी से नशे की सप्लाई करने के लिए जा रहा था। इसी तरह से पुलिस ने बुरहान पुत्र मोहम्मद शोएब निवासी 62 फुटा रोड को भी गिरफ्तार किया है। इसके पास से पुलिस को 260 ग्राम चरस मिली है। दोनों आरोपितों को पुलिस ने जेल भेज दिया।

छूटी दिव्यांग महिला की ट्रेन, टीसी ने की मदद

सहारनपुर : गुरुवार रात रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-3 पर रायपुर को जाने वाली ट्रेन छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस पहुंची थी। ट्रेन के जनरल कोच में चढ़ने के लिए यात्रियों में मारामारी मची थी। देहरादून से आई दिव्यांग महिला को अपनी बेटी के साथ इसी ट्रेन से ग्वालियर जाना था। भीड़ के कारण बेटी तो चढ़ गई लेकिन महिला प्लेटफार्म पर ही रह गई। ट्रेन के रवाना होने के बाद महिला स्टेशन पर बिलखने लगी। एक सफाईकर्मी ने स्टेशन पर ड्यूटी कर रहे टिकट कलेक्टर विपिन मीणा को महिला के बारे में बताया। पूछने पर महिला ने विपिन को अपनी सारी आपबीती बता दी। बोली उसके पास न टिकट है और न ही पैसे, अब वह क्या करेंगी। टीसी विपिन ने ठंड से परेशान महिला को ढांढस बंधाया। महिला ने बताया कि उनके एक रिश्तेदार शारदानगर में रहते हैं यदि उनके पास भेज दिया जाए तो बड़ी मेहरबानी होगी। ठंड से परेशान टीसी विपिन ने महिला को कंबल दिया और स्टेशन के बाहर से एक आटो वाले को पैसे देकर महिला को उसके बताए पते पर छोड़ने के लिए भेजा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept