This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

बांस की खेती से आत्मनिर्भर बन रहे किसान

बांस की खेती से आत्मनिर्भर  बन रहे किसान

जल संरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण को लेकर जिला प्रशासन ने जनपद में बड़े पैमाने पर बांस की खेती कराने का निर्णय लिया। जो अब सफल साबित हो रहा है। बांस की खेती से एक ओर जहां किसानों की आय में वृद्धि हो रही है वहीं दूसरी ओर जलवायु को सु²ढ़ बनाने और पर्यावरण संरक्षण में भी अहम योगदान मिल रहा है। बांस की खेती से बंजर जमीन उपजाऊ हो रहा है। खासकर भूमिहीन छोटे किसान और महिलाएं आजीविका से जुड़ रही हैं। मनरेगा विभाग के प्रयास से ही यह संभव हुआ।

Publish Date:Wed, 13 Jan 2021 04:59 PM (IST)Author: Jagran
 
राज्य चुनें Jagran Local News
  • उत्तर प्रदेश
  • पंजाब
  • दिल्ली
  • बिहार
  • उत्तराखंड
  • हरियाणा
  • मध्य प्रदेश
  • झारखण्ड
  • राजस्थान
  • जम्मू-कश्मीर
  • हिमाचल प्रदेश
  • छत्तीसगढ़
  • पश्चिम बंगाल
  • ओडिशा
  • महाराष्ट्र
  • गुजरात
आपका राज्य