नोएडा-गाजियाबाद समेत यूपी में खुले स्कूल, क्या छात्र-छात्राओं को भी जाना होगा; यहां जानिये- पूरी गाइडलाइन

UP School Reopen News उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के चलते यूपी के सभी जिलों में प्राथमिक स्कूलों को खोल दिया गया है लेकिन बच्चे नहीं जा रहे हैं 18 जनवरी से सिर्फ शिक्षक स्कूल जा रहे हैं।

Jp YadavPublish: Thu, 20 Jan 2022 11:59 AM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 02:27 PM (IST)
नोएडा-गाजियाबाद समेत यूपी में खुले स्कूल, क्या छात्र-छात्राओं को भी जाना होगा; यहां जानिये- पूरी गाइडलाइन

नोएडा/ग्रेटर नोएडा, जागरसंवाददाता। UP School Reopen: नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और हापुड़ समेत समूचे उत्तर प्रदेश में प्राथमिक और जूनियर स्कूल खुल गए हैं, लेकिन सिर्फ शिक्षकों की उपस्थिति के साथ और छात्र-छात्राएं नहीं आ रहे हैं। दरअसल, उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के चलते यूपी के सभी जिलों में प्राथमिक स्कूलों को खोल दिया गया है, लेकिन बच्चे कक्षाओं में उपस्थित नहीं होंगे। 18 जनवरी से सिर्फ शिक्षक स्कूल जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि तकरीबन सभी प्राथमिक स्कूलों में मतदान होना है, ऐसे में तैयारी के मद्देनजर स्कूलों को खोला गया है। शिक्षकों को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी की ओर से कहा गया है कि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल पहुंचे शिक्षक चुनाव मतदान प्रक्रिया की तैयारी में सहयोग करें। 

बच्चे घर में  और 50 प्रतिशत झमता के साथ शिक्षक पहुंच रहे स्कूल

बता दें कि उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में बेसिक शिक्षा अधिकारी की ओर से जारी आधिकारिक पत्र के बाद शिक्षक 50 प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल में पहुंच रहे हैं। बता दें कि यूपी चुनाव 2022 के लिए प्रथम चरण  पश्चिमी उत्तर की 58 सीटों पर 10 फरवरी को मतदान होता है।

स्कूलों को खोलने की गाइडलाइन

  • 50 प्रतिशत क्षमता के साथ शिक्षक स्कूल आएंगे।
  • इनमें शिक्षणेत्तर कर्मचारी भी शामिल होंगे।
  • आनलाइन क्लास भी लेनी होगी।
  • स्कूल में छात्र-छात्राओं को नहीं बुलाया जाएगा
  • स्कूल में उपस्थित शिक्षकों और शिक्षणेत्तर कर्मचारियों को कोरोना प्रोटोकाल का पालन करना होगा।
  • स्कूल में आने वाले शिक्षकों को मास्क लगाना होगा
  • कर्मचारियों को शारीरिक दूरी का पालन करना होगा

छात्रों के लिए 23 जनवरी तक बंद हैं स्कूल

सूबे में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए सभी स्कूल-कालेज 23 जनवरी तक बंद हैं। इससे पहले स्‍कूल, कालेज और यूनिवर्सिटी 16 जनवरी तक बंद थीं। तेजी से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं जिसे ध्‍यान में रखते हुए राज्‍य सरकार ने शैक्षणिक संस्‍थानों को बंद करने का कदम उठाया है। वहीं स्कूल कालेजों को आनलाइन पढ़ाई जारी रखने की अनुमति दी गई है, जिससे परीक्षाओं से पहले पढ़ाई का नुकसान न हो।

गौरतलब है कि चुनाव के मद्देनजर आगामी कुछ दिनों में पोलिंग पार्टियों में शामिल कर्मचारियों को चुनाव की ट्रेनिंग दी जाएगी। यह ट्रेनिंग दो बार में होनी है। पहली ट्रेनिग 27 जनवरी से प्रस्तावित है। ट्रेनिंग के लिए मास्टर ट्रेनरों को तैनात किया गया है।  पहले इनको प्रशिक्षण दिया जाएगा बाद में यह कर्मचारियों को ट्रेनिंग देंगे।जो मास्टर ट्रेनर नए तैनात किए गए हैं जल्द ही उनको प्रशिक्षण दिया जाएगा इसके बाद यह मास्टर ट्रेनर कर्मचारियों को प्रशिक्षण देंगे।  ट्रेनिंग के दौरान कर्मचारियों को ईवीएम के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। बैलेट यूनिट, कंट्रोल यूनिट और वीवीपैट को मतदान बूथ पर पर कैसे जोड़ना है। ईवीएम को कैसे आन करना है। चुनाव शुरू होने से पहले एजेंटों के सामने कैसे माक पोल करना है इसकी जानकारी ईवीएम से दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः तस्वीरों में देखिए राजपथ पर गणतंत्र दिवस परेड की रिहर्सल, जवानों ने दिखाए हैरतअंगेज करतब

दिल्ली में अभी बने रहेंगे मिनी लाकडाउन जैसे हालात, मंत्री ने बताया कब मिलेगी प्रतिबंधों में छूट

Edited By Jp Yadav

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept