जीबीएन स्मार्ट से जुड़े जिले के 28 विभाग, अब दिन में तीन बार लगेगी उपस्थिति

सरकारी विभागों के अधिकारी व कर्मचारियों को एक साथ जोड़ने और उनके कार्य की आसानी से मॉनिटिरंग करने के लिए जिला प्रशासन ने जीबीएन स्मार्ट नाम से मोबाइल एप लांच किया है।

JagranPublish: Fri, 08 Jun 2018 10:11 PM (IST)Updated: Fri, 08 Jun 2018 10:11 PM (IST)
जीबीएन स्मार्ट से जुड़े जिले के 28 विभाग, अब दिन में तीन बार लगेगी उपस्थिति

जागरण संवाददाता, नोएडा :

सरकारी विभागों के अधिकारी व कर्मचारियों को एक साथ जोड़ने और उनके कार्य की आसानी से मॉनिटिरंग करने के लिए जिला प्रशासन ने जीबीएन स्मार्ट'नाम से मोबाइल एप लांच किया है। जुबिलेंट नाम की निजी कंपनी के सहयोग से बने इस मोबाइल एप से अबतक जिले के 28 विभाग के करीब 450 कर्मचारी जुड़ चुके हैं। सेक्टर 27 स्थित जिलाधिकारी कैंप कार्यालय पर शुक्रवार दोपहर एप लां¨चग के मौके पर जिलाधिकारी बीएन ¨सह ने बताया कि इस मोबाइल एप को बनाने और कार्य करने में जिला प्रशासन के तरफ से कोई रकम खर्च नहीं की गई है। विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारियों को जनता के प्रति और अधिक जवाबदेह बनाने के उद्देश्य से एप का उपयोग किया जा रहा है। इससे फील्ड वर्क में मौजूद विभिन्न विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों को ट्रैक करना आसान हो जाएगा। दिन में तीन बार अधिकारी एवं कर्मचारी सेल्फी या फोटो के साथ इस एप पर जहां रहेंगे वहां से ही उपथिति दर्ज करा सकेंगे। अगर उपस्थिति में कोई कर्मचारी या अधिकारी गलत जानकारी दे रहा है तो जीपीएस की मदद से उसे ट्रैक भी किया जा सकेगा। अबतक इस एप से रेवेन्यू देने वाले विभाग के अलावा स्वास्थ्य विभाग शामिल हैं। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व केशव कुमार को इस का नोडल अधिकारी बनाया गया है। केशव कुमार ने बताया कि जिले के सभी विभागों को इस एप से जोड़ा जा रहा है। लगातार डाटा फीड करने का काम चल रहा है। प्रयास है कि पुलिस विभाग को छोड़कर अन्य सभी विभागों को अगले कुछ दिनों में जोड़ दिया जाए। उन्होंने बताया कि जिस कंपनी ने एप तैयार किया है उससे करार हुआ है कि इससे संबंधित कोई भी डाटा वह किसी से शेयर नहीं करेंगे। वहीं अगले एक वर्ष तक इस मोबाइल एप का वह कहीं और इस्तेमाल भी नहीं करेंगे। जिला प्रशासन का प्रयास होगा कि यह मोबाइल एप जिले में सफल हो। सफलता मिलने पर शासन को इसकी रिपोर्ट दी जाएगी। अगर शासन सहमत होगा तो अन्य कहीं भी इसका प्रयोग हो सकेगा। उधर, शुक्रवार को जिलाधिकारी कैंप कार्यालय में जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ बैठक कर मोबाइल एप के संबंध में तकनीकी जानकारी दी गई। उस बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुमार विनीत, नगर मजिस्ट्रेट नोएडा महेंद्र कुमार ¨सह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर अनुराग भार्गव, उप जिलाधिकारी सदर राजपाल ¨सह, जिले में तैनात सभी तहसीलदार सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept