चार नासूरों ने उत्तर प्रदेश का पीया खून : अमित शाह

जागरण संवाददाता ग्रेटर नोएडा विधानसभा चुनाव में जनसंपर्क करने ग्रेटर नोएडा पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को सपा बसपा और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। गृहमंत्री सबसे अधिक समाजवादी पार्टी पर हमलावर दिखे। उन्होंने कहा कि 20 साल से उत्तर प्रदेश में माफियाराज चल रहा था। बसपा सपा सरकार ने प्रदेश को गड्ढे में डाल दिया था। आज आलू गन्ना पैदा करने वाला उत्तर प्रदेश नंबर बन गया है।

JagranPublish: Thu, 27 Jan 2022 09:20 PM (IST)Updated: Thu, 27 Jan 2022 09:20 PM (IST)
चार नासूरों ने उत्तर प्रदेश का पीया खून : अमित शाह

जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : विधानसभा चुनाव में जनसंपर्क करने ग्रेटर नोएडा पहुंचे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को सपा, बसपा और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। गृहमंत्री सबसे अधिक समाजवादी पार्टी पर हमलावर दिखे। उन्होंने कहा कि 20 साल से उत्तर प्रदेश में माफियाराज चल रहा था। बसपा, सपा सरकार ने प्रदेश को गड्ढे में डाल दिया था। आज आलू, गन्ना पैदा करने वाला उत्तर प्रदेश नंबर बन गया है। कानून व्यवस्था, इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर हुआ है। किसानों के मसले धीरे-धीरे समाप्त हुए हैं।

शारदा विश्वविद्यालय में प्रभावी मतदाता संवाद कार्यक्रम में केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा कि जातिवाद, परिवारवाद, तुष्टीकरण और भ्रष्टाचार, इन चार नासूरों ने उत्तर प्रदेश का खून पीया है। जातिवाद के आधार पर सरकार चलीं। एक सरकार आती थी और अपनी जाति का काम करती थी। इसके बाद दूसरी सरकार भी अपनी ही जाति का काम करती थी। परिवार के अलावा किसी का काम ही नहीं हुआ। तुष्टीकरण चरम पर था। एक वर्ग कुछ भी गुनाह कर देता था, तो कोई गुनाह नहीं था। एक आम व्यक्ति गलत दिशा में चला जाता है, तो उसका चालान कट जाता है। भाजपा के पांच साल पर अखिलेश और राहुल भी भ्रष्टाचार को लेकर सवाल नहीं उठा सकते। प्रदेश में कानून व्यवस्था मजबूत हुई है। आज आजम खा, मुख्तार जेल में हैं। पहले बुआ-भतीजे की सरकार चलती थी। माफियाराज चलता था। कोई यहां निवेश करने को तैयार नहीं था। अगर माफिया वर्ग विशेष का हो तो उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती थी। खुलेआम शोषण करते थे। जमीन पर कब्जा करते थे। फिरौती उगाहते थे। वर्तमान की योगी सरकार ने प्रदेश में कानून व्यवस्था को मजबूत किया है। दो हजार करोड़ की भूमि मुक्त कराकर उसमें गरीबों को मकान दिए गए हैं। उद्योग लगाए गए हैं। अखिलेश बाबू कहते थे कि मंदिर वहीं बनाएंगे लेकिन डेट नहीं बताएंगे, उसका उत्तर उन्हें मिल गया है।

सपा के पास लाल व नीली लाइट दोनों हैं। अखिलेश के हाथ में लाल लाइट से विकास रुक जाएगा। नीली लाइट माफिया और गुंडों के लिए है। उनके आने से माफिया बेरोकटोक हो जाएंगे। सपा ने जाति को आगे बढ़ाया है। अगर प्रदेश में गैरकानूनी पैसा पकड़ा जाएगा तो चुनाव कैसे प्रभावित होगा। अखिलेश को इसका जवाब पश्चिम उत्तर प्रदेश की जनता को देना होगा। सपा, कांग्रेस, बसपा के दिखाने के दांत और हैं। ये विकास नहीं चाहते। भाजपा सरकार ने पिछड़ा वर्ग आयोग को मान्यता दी। जो वादे किए वो 95 फीसद पूरे हुए। गरीबों के लिए काम किया। इंफ्रास्ट्रक्चर, महिलाओं को फ्री गैस कनेक्शन, घर में शौचालय, बिजली पहुंचाई। उत्तरप्रदेश सबसे ज्यादा कोरोनारोधी टीका लगाने वाला राज्य है। कुछ लोगों ने इसे भाजपा वालों का टीका बताया था।

370, 35ए को उखाड़ फेंका : गृहमंत्री ने कहा कि सपा के एक नेता ने सदन में कहा था कि सीमा पर लगी बाड़ हटा दो। जो आना चाहे आए और जाए। ये क्या धर्मशाला है। कांग्रेस के समय में सीमा पार से लोग आते थे। हमारे सैनिकों के सिर काट ले जाते थे। दिल्ली में बैठे लोगों के कान पर जूं नहीं रेंगती थी। हमे दो-तिहाई बहुमत मिला तो 370 और 35 ए को उखाड़ फेंका। वोट बैंक की राजनीति देश से ऊपर नहीं हो सकती। पाकिस्तान ने दो हमले किए। वह भूल गए कि ये कांग्रेस पार्टी नहीं है। ये भाजपा की सरकार है। 10 दिन में ही उसका जवाब दिया गया। बाक्स..

शुभ हैं कैप्टन

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भाजपा के पश्चिम उत्तर प्रदेश सह प्रभारी कैप्टन अभिमन्यु की तारीफ की। उन्हें पार्टी के लिए शुभ बताया। उन्होंने कहा कि कैप्टन को उत्तर प्रदेश का सह प्रभारी बनाने को लेकर किसी ने सवाल किया था कि उन्हें हर बार यह जिम्मेदारी क्यों दी जाती हैं। मैंने कहा था कि वह पार्टी के लिए शुभ हैं। कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि प्रभावी मतदाता संवाद से पार्टी को करीब ढाई लाख लोगों तक रीति-नीति पहुंचाने का मौका मिलेगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept