दो को सहारनपुर आएंगे अमित शाह और योगी

भारतीय जनता पार्टी कार्यालय पर सोमवार को बैठक हुई। जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला ने अध्यक्षता की व संचालन जिला उपाध्यक्ष बिजेंद्र पाल ने किया। मुख्य अतिथि जिला प्रभारी सतेंद्र सिसौदिया ने कहा कि सहारनपुर जिले के पुवारका में दो दिसंबर को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय का शिलान्यास करेंगे।

JagranPublish: Mon, 29 Nov 2021 11:45 PM (IST)Updated: Mon, 29 Nov 2021 11:45 PM (IST)
दो को सहारनपुर आएंगे अमित शाह और योगी

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। भारतीय जनता पार्टी कार्यालय पर सोमवार को बैठक हुई। जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला ने अध्यक्षता की व संचालन जिला उपाध्यक्ष बिजेंद्र पाल ने किया। मुख्य अतिथि जिला प्रभारी सतेंद्र सिसौदिया ने कहा कि सहारनपुर जिले के पुवारका में दो दिसंबर को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मां शाकुंभरी विश्वविद्यालय का शिलान्यास करेंगे। इसके बाद वहीं पर सभा होगी। जिले से अधिक से अधिक कार्यकर्ता समय से वहां पहुंचें। जिलाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा राज में गुंडातत्व का खात्मा हुआ है। भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा है। सरकार सबका साथ, सबका विकास की तर्ज पर काम कर रही है। इस दौरान राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल, बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक, पुरकाजी विधायक प्रमोद ऊटवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष डा. वीरपाल निर्वाल, जिला उपाध्यक्ष नितिन मलिक, अमित चौधरी, रोहताश पाल, राजीव गुर्जर, राजपाल, जगदीश पांचाल, शरद शर्मा, वैभव त्यागी, राहुल वर्मा, रेणु गर्ग, साधना सिघल, सचिन सिघल, सुनील दर्शन, सुधीर खटीक, प्रवीण शर्मा, विकास अग्रवाल व अंचित मित्तल आदि मौजूद रहे। पांच दिसंबर को गूंजेगी सामूहिक शहनाई

जेएनएन, मुजफ्फरनगर। मुख्यमंत्री विवाह योजना के तहत जनपद में पांच दिसंबर को शादियां कराई जाएंगी। जिला पंचायत, ब्लाक कार्यालय समेत नगर निकायों के कार्यालयों में शहनाई बजेंगी। जनप्रतिनिधि और अधिकारी वर-वधू को आशीर्वाद देंगे।

जिला समाज कल्याण अधिकारी जीआर प्रजापति ने बताया कि पांच दिसंबर को जिले के सभी ब्लाक कार्यालयों, जिला पंचायत कार्यालय और निकायों में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का कार्यक्रम तय हुआ है। एक ही प्रांगण में शादी और निकाह होंगे। पात्रता के लिए लड़की जिले की होनी चाहिए और अभिभावक की वार्षिक आय दो लाख से कम होनी चाहिए। वर-वधू बालिग हों। निराश्रित कन्या, विधवा महिला की पुत्री, दिव्यांगजन अभिभावक की पुत्री, दिव्यांग लड़की को प्राथमिकता दी जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रत्येक विवाह पर 51 हजार रुपये सरकार खर्च करेगी। इसमें लड़की के नाम 35 हजार रुपये का चेक और 10 हजार रुपये का घरेलू उपयोग का सामान दिया जाएगा। इसके अलावा छह हजार रुपये व्यवस्था पर खर्च होंगे। पात्र पांच दिसंबर से पहले आनलाइन और आफलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept