आपका मतदाता पहचान पत्र नहीं आ रहा है तो ये हो सकती है वजह, तुरंत गड़बड़ी ठीक करा लें

UP Election 2022 मतदान के लिए अब तक आपने अपना वोटर आई कार्ड तो बनवा ही लिया होगा। अब उसके आने का इंतजार कर रहे होंगे। लेकिन घर पर वोटर कार्ड नहीं पहुंच रहा है तो समझ लीजिए कि आपने कार्ड बनवाते समय कोई गड़बड़ी की है।

Samanvay PandeyPublish: Tue, 18 Jan 2022 02:54 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 02:54 PM (IST)
आपका मतदाता पहचान पत्र नहीं आ रहा है तो ये हो सकती है वजह, तुरंत गड़बड़ी ठीक करा लें

मुरादाबाद, जेएनएन। UP Chunav 2022 : यूपी विधानसभा चुनाव 2022 में मतदान के लिए अब तक आपने अपना वोटर आई कार्ड तो बनवा ही लिया होगा। अब उसके आने का इंतजार कर रहे होंगे। लेकिन एक-दो दिन में यदि घर पर वोटर कार्ड नहीं पहुंच रहा है तो समझ लीजिए कि आपने कार्ड बनवाते समय कोई गड़बड़ी की है। जैसे, पता गलत दर्ज कर दिया होगा। ऐसे में आपके पास तक कार्ड नहीं पहुंच पाएगा। दरअसल, कार्ड को घर तक भिजवाने का जिम्मा डाक विभाग को दिया गया है। अब जब पता ही गलत होगा तो डाक विभाग आपका वोटर कार्ड कैसे घर तक पहुंचाएगा। 

अधूरे पता होने के कारण डाक विभाग को मतदाता पहचान पत्र वितरण करने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अधूरा पता होने के कारण 20 हजार मतदाता पहचान पत्र तहसील को वापस किए गए हैंं। चुनाव आयोग ने नये मतदाता पहचान पत्र वितरण के लिए इस बार बूथ लेबल अधिकारी (बीएलओ) के बजाय डाक विभाग को बंटवाने की जिम्मेदारी सौपी है। जिला निर्वाचन अधिकारी नए पहचान पत्र तैयार होने के बाद एसडीएम को सौंप देतेे हैंं। एसडीएम स्थानीय डाकघरों को मतदाता पहचान पत्र का लिफाफा सौंंप देते हैंं।

डाक विभाग लिफाफे को स्पीड पोस्ट से बुक करने के बाद डाकिया को वितरण करने के लिए भेज देता है। अभी तक मुरादाबाद जिले में 80 हजार मतदाता पहचान पत्र डाक विभाग को वितरण के लिए सौपा गया है, जिसमें 40 हजार मतदाता पहचान पत्र का वितरण किया जा चुका है। 20 हजार मतदाता पहचान पत्र वितरण किया जाना है। 20 हजार ऐसे मतदाता पहचान पत्र है, जिसमें पता स्पष्ट नहीं होने से वितरण नहीं हो पाया है। इन्हें संबंधित एसडीएम को वापस कर दिया गया है। डाक विभाग ने एसडीएम को पत्र भेजा है कि पता में मतदाता का मोबाइल नंबर अंकित करेंं, जिससे डाकिया फोन कर मतदाता से सही पता की जानकारी कर लेगा।

प्रवर डाक अधीक्षक वीर सिंह ने बताया कि अभी तक 80 हजार पहचान पत्र वितरण लिए मिले है। लगभग 20 हजार पहचान पत्र में पता ठीक नहीं होने से संबंधित एसडीएम को वापस कर दिया है और अधिकारी से अनुरोध किया है कि पता में मतदाता का मोबाइल नंबर भी अंकित करे, जिससे डाकिया फोन कर सही पता की जानकारी करेगा और पहचान पत्र पहुंचाने का काम करेगा।

Edited By Samanvay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept