This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

दो दिन बाद खुलने हैं स्कूल, पर मुरादाबाद के कई बेसिक स्कूलों में उगी है बड़ी-बड़ी घास, सैनिटाइजेशन भी नहीं हुआ

Moradabad School Reopen News बेसिक शिक्षा परिषद ने छठवींं से आठवीं तक के स्कूल 23 अगस्त और कक्षा एक से पांच तक एक सितंबर से खोलने के आदेश जारी होने के बाद स्कूलों में सफाई मिड-डे मील के बर्तन व सैनिटाइजेेेेशन का काम शुरू हो गया है।

Samanvay PandeySat, 21 Aug 2021 03:33 PM (IST)
दो दिन बाद खुलने हैं स्कूल, पर मुरादाबाद के कई बेसिक स्कूलों में उगी है बड़ी-बड़ी घास, सैनिटाइजेशन भी नहीं हुआ

मुरादाबाद, जेएनएन। Moradabad School Reopen News : बेसिक शिक्षा परिषद ने छठवींं से आठवीं तक के स्कूल 23 अगस्त और कक्षा एक से पांच तक एक सितंबर से खोलने के आदेश जारी होने के बाद स्कूलों में सफाई, मिड-डे मील के बर्तन व सैनिटाइजेेेेशन का काम शुरू हो गया है। वहीं कई बेसिक स्कूलों में अभी सफाई तक नहीं हुई। बड़ी-बड़ी घास उग आई है। नगर निगम, नगर पंचायत, नगर पालिका और ग्राम पंचायत के माध्यम से स्कूलों में सफाई व सैनिटाइजेनश कराना है।

कन्या जूनियर हाईस्कूल शेरपुर धर्मपुर में स्कूल परिसर में घास जमी हुई है। पूर्व माध्यमिक विद्यालय रसूलाबाद में सफाई व सैनिटाइजेशन शनिवार को किया गया। स्कूल स्टाफ के कहने पर भी नगर पंचायत की ओर से सफाई की व्यवसथा नहीं की गई। इसके अलावा सीबीएसई, आइसीएसई और माध्यमिक स्कूलों में संचालित कक्षा एक से आठवीं तक के स्कूल उपरोक्त तिथियों से खुलेंगे। इसको लेकर बीएसए बुद्ध प्रिय सिंह ने स्कूलों में सफाई, सैनिटाइज, स्वास्थ्य समेत अन्य बिंदुओं का पालन करने वाले शासनादेश से स्कूलों को अवगत करा दिया है।

स्कूल खुलने से पहले सभी को कोविड-19 नियमों के तहत पालन करना होगा। परिषदीय स्कूलों में खंड शिक्षाधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए हैं। वहीं पब्लिक स्कूल भी अपने स्तर से स्कूल खोलने की तैयारी में जुट गए हैं। कोविड की गाइड लाइन में नई व्यवस्थाओं को जोड़ते हुए बेसिक स्कूल खुलेंगे। स्कूलों में नियमित रूप से सैनिटाइजेशन के अलावा आक्सीमीटर, डिजीटल थर्मल स्कैनर की सुविधा की जाएगी। रोजाना छात्राें का तापमान और आक्सीजन लेबल चेक होगा। जिसका तापमान सामान्य से अधिक होगा।

उनके अभिभावकों को बुलाकर बच्चों को घेर भेजा जाएगा और स्वास्थ्य लाभ की सलाह भी दी जाएगी। यही नहीं स्वास्थ्य केंद्रों में भी बच्चों के उपचार के लिए प्रधानाध्यापकों को संपर्क में रहने के निर्देश दिए गए हैं। जिस स्कूलों में छात्र-छात्राओं की संख्या अधिक है, वहां पर दो पालियों में कक्षाएं लगेंगी। सुबह आठ से 11 बजे तक और दूसरी पाली 11.30 बजे से 2.30 बजे संचालित होंगी। बच्चे व शिक्षक मास्क लगाकर स्कूल आएंगे। बच्चों को स्कूल भेजने के लिए अभिभावकों से बातचीत की जाएगी और अनापत्ति प्रमाण पत्र भी लिया जाएगा।

यह भी गाइड लाइन जारी

-बाहरी लोगों को खाद्य बिक्री से रोजा जाएगा।

-स्कूल की बसों को दो बार रोजाना सैनिटाइज किया जाएगा।

-सामान्य से अधिक तापमान मिलने पर बच्चों को अभिभावकों के बुलाकर स्वास्थ्य लाभ के लिए नवाब

-भौतिक रूप से बस संचालकों व परिचालकों को स्कूल में छह फीट की दूरी पर रहना होगा।

-बसों के हैंडिल सैनिटाइज करने की व्यवस्था की जाए।

-इसका ध्यान रहे कि बच्चे मास्क की अदला बदली नहीं करेंगे।

-किताब, नोटबुक, पेन समेत व नाश्ता एक दूसरे से साझा नहीं करेंगे।

-बच्चों को नियमित अंतराल पर हाथ धोने के लिए प्रेरित किया जाए।

क्या कहते हैं अधिकारीः बीएसए बुद्धप्रिय सिंह ने बताया कि शासनादेश की गाइड लाइन जारी कर दी गई है। परिषदीय स्कूलों में शिक्षक पहले से ही स्कूल जा रहे हैं, उनसे कोविड-19 के नियमों का पूरी तरह पालन करने के निर्देश दिए हैं। निरीक्षण में कोविड-19 के नियमों को भी चेक किया जाएगा।

Edited By: Samanvay Pandey

मुरादाबाद में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner