कोरोना संक्रमण बढ़ने से अब इस तारीख तक बंद रहेंगे स्कूल कालेज, चालू रहेगी आनलाइन पढ़ाई

School Colleges Closed in Moradabad कोरोना संक्रमण के चलते सभी माध्यम की शिक्षण संस्थाएं अब 23 जनवरी तक बंद रहेंगी। इस दौरान आनलाइन कक्षाएं संचालित रहेंगी। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने यह आदेश जारी किया है। डिग्री कालेज माध्यमिक बेसिक सीबीएसई आइसीएसई के स्कूल-कालेज पर नियम लागू होगा।

Samanvay PandeyPublish: Mon, 17 Jan 2022 07:36 AM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 07:36 AM (IST)
कोरोना संक्रमण बढ़ने से अब इस तारीख तक बंद रहेंगे स्कूल कालेज, चालू रहेगी आनलाइन पढ़ाई

मुरादाबाद, जेएनएन। School Colleges Closed in Moradabad : कोरोना संक्रमण के चलते सभी माध्यम की शिक्षण संस्थाएं अब 23 जनवरी तक बंद रहेंगी। इस दौरान आनलाइन कक्षाएं संचालित रहेंगी। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने यह आदेश जारी किया है। डिग्री कालेज, माध्यमिक, बेसिक, सीबीएसई, आइसीएसई के स्कूल-कालेज पर यह नियम लागू होगा। अभी तक ठंड व कोरोना के कारण 16 जनवरी तक बंद थे। मुरादाबाद में कोरोना संक्रमण के 3000 से अधिक केस पहुंच चुके हैं। जबकि 1000 से अधिक केस मिलने पर उन जिलों में शिक्षण संस्थाएं बंद रखने के पहले ही शासनादेश हो चुके हैं। डीआइओएस अरुण कुमार दुबे ने बताया कि शासनादेश के तहत 23 जनवरी तक सभी शिक्षण संस्थाएं बंद रहेंगी।

50 प्रतिशत स्टाफ के साथ न्यायालय में होगा काम : कोरोना महामारी के कारण जनपद न्यायाधीश ने अदालतों में 50 फीसद स्टाफ के साथ कार्य करने के निर्देश जारी किए हैं। न्यायिक अधिकारियों को रोटेशन प्रक्रिया तहत मुकदमों की सुनवाई करेंगे। कोरोना महामारी के कारण बीते सप्ताह जनपद न्यायालय में कार्यरत 20 से अधिक न्यायिक कर्मचारी कोरोना पाजिटिव मिले थे। जिसके बाद दो दिन के लिए न्यायालयों में काम-काज बंद करके सैनिटाइज किया गया था। इन मामलों के सामने आने के बाद जिला एवं सत्र न्यायाधीश डा. अजय कुमार ने उच्च न्यायालय के आदेशानुसार सोमवार से न्यायिक अधिकारियों को रोटेशन के आधार पर सुनवाई करने के निर्देश जारी किए हैं।

काेर्ट में 50 फीसद न्यायिक कर्मचारियों को बुलाया जाएगा। इसके साथ ही किसी भी कर्मचारी मुख्यालय छोड़कर नहीं जाने के लिए कहा गया है। वादकारियों को न्यायालय में जाने से पूर्ण रूप से प्रतिबंधित कर दिया गया है। विशेष परिस्थितियों में ही अनुमति लेकर न्यायालय परिसर में प्रवेश की अनुमति रहेगी। इसके साथ ही जिले के डीएम और एसएसपी को न्यायालय परिवार में सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही कोरोना बचाव संबंधी सभी निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित कराने के लिए कहा गया है।

Edited By Samanvay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept