ईद मिलादुन्नबी पर रामपुर में निकाला गया जुलूस ए मुहम्मदी, घरों व मस्जिदों में मिलाद शरीफ, कुरआन खानी हुई

Eid Miladunnabi 2021 ईद मिलादुन्नबी के मौके पर रामपुर जिले में जुलूस ए मुहम्मदी निकाले गए‌। रामपुर शहर में किले से जुलूस की शुरुआत हुई। इस मौके पर काजी ए शरआ व जिला मुफ्ती सैयद फैजान मियां समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Samanvay PandeyPublish: Tue, 19 Oct 2021 02:47 PM (IST)Updated: Tue, 19 Oct 2021 02:47 PM (IST)
ईद मिलादुन्नबी पर रामपुर में निकाला गया जुलूस ए मुहम्मदी, घरों व मस्जिदों में मिलाद शरीफ, कुरआन खानी हुई

मुरादाबाद, जेएनएन। Eid Miladunnabi 2021 : ईद मिलादुन्नबी के मौके पर रामपुर जिले में जुलूस ए मुहम्मदी निकाले गए‌। रामपुर शहर में किले से जुलूस की शुरुआत हुई। इस मौके पर काजी ए शरआ व जिला मुफ्ती सैयद फैजान मियां समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। बिलासपुर में सीरत कमेटी के तत्वाधान में ईदगाह से जुलूस-ए-मुहम्मदी निकाला गया। जुलूस में सबसे आगे शादाब अली खां कौमी एकता का परचम लेकर चल रहे थे। उनके पीछे बड़ी संख्या में उलमा तकरीर करते हुए चल रहे थे। स्वार, मिलक, शाहबाद और केमरी में भी जुलूस निकाले गए।

स्वार में जश्ने ईद मिलादुन्ननवी के मौके पर नगर की फीजा सरकार की आमद मरहवा, देखो मेरे नवी की शान, बच्चा बच्चा है कुर्बान, नारा ए तकवीर, नारा ए रिसालत के नारों से गूंज उठी। बड़ी सादगी के साथ जुलूस ए मोहम्मदी में आशिके रसूल में लोगो ने शिरकत की। घरों व मस्जिदों में मिलाद शरीफ, कुरआन खानी, फातिहा हुईं। मस्जिदों को फूलों व झालरों से सजाया गया। बारह रवि उल अब्वल के मुबारक मौके पर नगर सहित ग्रामीण क्षेत्र के उलेमाओं ने सादगी के साथ नगर में जुलूस ए मोहम्मदी निकाला। घर, दुकान, गली व रास्तों को रंग बिरंगी रोशनियों से सजाया गया।

घरों की छतों पर इस्लामी हरे झंडे भी लगाये गए। जुलूस की निजारत कारी शब्बन खां करते हुए चल रहे थे। शासन की गाइड लाइन के तहत जामा मस्जिद में शहर इमाम मोहम्मद खतिवी की सदारत में जश्ने ईद मिलादुन्ननवी मनाया गया। कुरआन ए पाक की तिलावत से मौलाना साबिर रजा खां ने आगाज फरमाया। कारी इरमान रजा अत्तारी ने तकरीर करते हुए फरमाया कि हजरत मोहम्मद सल्ललाहु अलह हे वसल्लम तमाम जहान के लिए रहमत हैं। किसी खास कौम या किसी खित्ते के लिए रहमत नही हैं। बल्कि सारे जहान के लिए रहमत हैं।

मौलाना साविर रजा खां ने फरमाया कि हजरत की जिंदगी हमारे लिए नमुना है। हमें अपनी जिंदगी नवी के बताये हुए रास्ते पर गुजारनी चाहिए।गांव नरपतनगर स्थित मदरसा दारुल उलूम साविरिया मखदूम ए मिल्लत में तकरीर एवं दुआ कराई गई। इससे पूर्व उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल के नगराध्यक्ष लईक गोल्ड़न, याबर पाशा, नाजिर पाशा, नाजिम, हाजी जाहिद अली ने उलेमों का फूल माला पहनाकर जोरदार स्वागत किया।

जुलूस ए मोहम्मदी में मुफ्ती फराग अहमद, मौलाना नाजिम खां, मौलाना अहमद रजा रजवी, कारी इंतेकाफ अली, मौलाना मुराद अली, हाफिज अमीर अहमद, हाजी शमीम अहमद शम्मी, मौलाना गुलफाम सावरी, नवी हसन आदि मौजूद रहे। सुरक्षा की दृष्टि से सीओ धर्मसिंह मार्छाल व कोतवाल हरेन्द्र सिंह दलबल के साथ तैनात रहे।

Edited By Samanvay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept