आजम खां के बेटे अब्दुल्ला रात पौने तीन बजे रामपुर पहुंचे, घर पर मिलने वालों का उमड़ा हुजूम

Azam Khan son Abdullah reached Rampur सपा सांसद आजम खां के परिवार के लिए यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से ठीक पहले शनिवार को एक अच्छी खबर आई। उनके बेटे अब्दुल्ला आजम को सीतापुर जेल से रिहा कर दिया गया। अब्दुल्ला रात पौने तीन बजे रामपुर पहुंचे।

Samanvay PandeyPublish: Sun, 16 Jan 2022 11:53 AM (IST)Updated: Sun, 16 Jan 2022 11:53 AM (IST)
आजम खां के बेटे अब्दुल्ला रात पौने तीन बजे रामपुर पहुंचे, घर पर मिलने वालों का उमड़ा हुजूम

रामपुर, जेएनएन। Azam Khan son Abdullah reached Rampur : सपा सांसद आजम खां के परिवार के लिए यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से ठीक पहले शनिवार को एक अच्छी खबर आई। उनके बेटे अब्दुल्ला आजम को सीतापुर जेल से रिहा कर दिया गया। अब्दुल्ला आजम सीतापुर जेल में 688 दिन रहे। रात में जेल से रिहाई होने के बाद सीतापुर जिला कारागार के बाहर उनके समर्थकों का हुजूम उमड़ पड़ा। समर्थकों से मिलने के बाद अब्दुल्ला गाड़ी से रामपुर के लिए रवाना हो गए। रामपुर में अब्दुल्ला अपने घर रात पौने तीन बजे पहुंचे।यहां भी उनसे मुलाकात के लिए घर पर लोगों का हुजूूम उमड़ पड़ा। सीतापुर से रामपुर तक जगह-जगह लोगों ने उनका स्वागत किया। इस कारण सीतापुर से यहां तक पहुंचने में उन्हें छह घंटे लग गए।

दिसंबर 2020 में रिहा हुई थीं आजम की पत्नी तजीन फात्मा : सपा सांसद आजम खां के साथ उनकी पत्नी विधायक तजीन फात्मा और बेटा अब्दुल्ला आजम 27 फरवरी 2020 को सीतापुर जेल शिफ्ट किया गया था। वह अपने पति व बेटे के साथ जेल में 298 दिन रहीं। दिसंबर में तजीन फात्मा की रिहाई हुई थी।  उस समय भी सीतापुर जिला जेल के बाहर समर्थकों की भीड़ जुटी थी। अब अब्दुल्ला की भी रिहाई हो गई है। हालांकि अभी आजम खां की रिहाई नहीं हो सकी है। उनके समर्थ उम्मीद जता रहे हैं कि अब जल्द ही आजम की भी जेल से रिहाई हो जाएगी। 

रामपुर से भेजा गया था 43 मामलों में रिहाई का परवाना : सीतापुर जेल के जेलर आरएस यादव ने बताया कि 43 मामलों में रिहाई परवाना आना था। शुक्रवार तक 12 आदेश मिले, 31 आने शेष थे। शनिवार को सब आदेश आ गए थे, लेकिन तकनीकी पेंच फंस गया था। इस वजह से दोबारा रामपुर जेल से संपर्क साधा गया। इसके बाद संशोधित रिहाई परवाना भेजा गया। सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष रामपुर अखिलेश गंगवार संशोधित रिहाई परवाना लेकर करीब आठ बजे सीतापुर जेल पहुंचे। इसके बाद जेल में औपचारिकताओं को पूरा कर अब्दुल्ला आजम काे रिहा किया गया।

Edited By Samanvay Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept