यूपी चुनाव 2022: मेरठ में खूब उड़ रहीं आचार संहिता की धज्‍जियां, इतने प्रत्‍याशियों के खिलाफ केस दर्ज

UP Vidhan Sabha Chunav 2022 मेरठ में भी चुनाव प्रचार के दौरान आचार संहिता का उल्‍लंघन किया जा रहा है। आचार संहिता उल्लंघन व महामारी अधिनियम के तहत हुई कार्रवाई। भाजपा प्रत्याशी के स्वागत में सदर थाने के सामने बजाया डीजे।

Prem Dutt BhattPublish: Fri, 21 Jan 2022 08:04 AM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 08:04 AM (IST)
यूपी चुनाव 2022: मेरठ में खूब उड़ रहीं आचार संहिता की धज्‍जियां, इतने प्रत्‍याशियों के खिलाफ केस दर्ज

मेरठ, जागरण संवाददाता। UP Chunav 2022 चुनाव प्रचार के दौरान आचार संहिता की धज्जियां उड़ाने के मामले में कई दलों के प्रत्‍याशियों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया। भाजपा के कैंट प्रत्याशी अमित अग्रवाल के स्वागत में कार्यकर्ताओं ने सदर थाने के सामने ही डीजे लगा दिया। गाना बजते ही चौराहे पर सैकड़ों की संख्या में भीड़ एकत्र हो गई। एसपी के फटकार लगाने पर पुलिसकर्मी डीजे बंद कराने पहुंचे। कुछ देर के लिए डीजे बंद कर दिया, लेकिन उनके जाते ही फिर बजने लगा। सदर पुलिस ने अमित अग्रवाल समेत पांच लोगों के खिलाफ आदर्श आचार संहिता उल्लंघन और महामारी अधिनियम के तहत नामजद मुकदमा दर्ज किया है, जबकि 50 अज्ञात के खिलाफ भी रिपोर्ट दर्ज की गई है।

थाने के सामने ही बजाया डीजे

गुरुवार को भाजपा कैंट प्रत्याशी अमित अग्रवाल का कैंट क्षेत्र में स्वागत समारोह था। भाजपा कार्यकर्ताओं ने शहर के अलग-अलग चौराहों पर स्वागत की व्यवस्था कर रखी थी। इसी बीच कुछ कार्यकर्ताओं ने बिना अनुमति के ही सदर थाने के सामने डीजे लगा दिया। तभी एसपी सूरज राय वहां से गुजरे। उन्होंने पुलिसकर्मियों को फटकार लगाते हुए अनुमति के बारे में पूछा, लेकिन पुलिसकर्मी कोई जवाब नहीं दे सके। इसके बाद इंस्पेक्टर देव सिंह रावत फोर्स के साथ डीजे बंद कराने पहुंच गए। कार्यकर्ताओं की एसएसआइ गौरव राणा से कहासुनी भी हुई।

इनके खिलाफ मामला

एसपी सूरज राय के मुताबिक सदर थाने के सामने बिना अनुमति डीजे बजाने व भीड़ एकत्र करने के मामले में अमित अग्रवाल समेत नितिन बालाजी, पीयूष शर्मा, आकाश गुप्ता, शिवम राय व हरीश साहू के साथ पचास अज्ञात लोगों के विरुद्ध आचार संहिता का उल्लंघन और महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं, लालकुर्ती पुलिस ने एकत्र भीड़ को समझाकर वापस भेज दिया। उस क्षेत्र से झंडे भी जब्त किए गए हैं।

पुलिस ने भाजपा के झंडे उतरवाए

लालकुर्ती इंस्पेक्टर अतर सिंह यादव पुलिस फोर्स के साथ क्षेत्र में चेकिंग कर रहे थे। तभी पटेल नगर मंडल अध्यक्ष बलराज गुप्ता पीएल शर्मा रोड पर कार्यकर्ताओं के साथ अमित अग्रवाल के स्वागत में खड़े थे। क्षेत्र में लगे पार्टी के झंडे देखकर इंस्पेक्टर ने नाराजगी जताई और कार्यकर्ताओं से उन्हें उतरवाने को कहा। जिस वजह से इंस्पेक्टर की कहासुनी बलराज गुप्ता से हो गई। किसी तरह पुलिसकर्मियों ने मामले को शांत किया। इसके बाद अतर सिंह यादव ने भाजपा के झंडे उतरवाकर जब्त कर लिए।

भाजपा प्रत्याशी सोमेंद्र तोमर और कमलदत्त के खिलाफ मुकदमा

मेरठ : सपा प्रत्याशी योगेश वर्मा के बाद भाजपा प्रत्याशी सोमेंद्र तोमर और कमलदत्त शर्मा के खिलाफ आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन और कोरोना से बचाव के नियमों का पालन नहीं करने का मुकदमा दर्ज हुआ है। दोनों के वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। गुरुवार को टीपीनगर थाने में भाजपा के शहर प्रत्याशी कमलदत्त शर्मा समेत 25-30 अज्ञात लोगों पर धारा 144 के उल्लंघन, आदर्श आचार संहिता और कोरोना प्रोटोकाल का पालन नहीं करने का मुकदमा दर्ज हुआ है। इंस्पेक्टर विवेक शर्मा ने बताया कि भाजपा प्रत्याशी ने अपने टीपीनगर थानाक्षेत्र स्थित आवास पर लोगों की भीड़ जुटाई। उसका वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो चुका है। बताया कि कमलदत्त के अलावा वीडियो में नजर आ रहे अन्य लोगों की भी पड़ताल की जा रही है। वहीं, बुधवार को नामांकन के दौरान कमिश्नरी पर जुलूस निकालने पर भी कमलदत्त समेत 40 अज्ञात के खिलाफ सिविल लाइन थाने में आचार संहिता उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया है।

सैकड़ों की भीड़ जुटाई

इसी तरह 15 जनवरी को भाजपा के दक्षिण प्रत्याशी सोमेंद्र तोमर के तेजगढ़ी स्थित कार्यालय पर भीड़ जुटी थी। इसका वीडियो भी वायरल होने के बाद चुनाव आयोग तक पहुंच गया। चुनाव आयोग के संज्ञान लेने के बाद मेडिकल थाने में आनन-फानन में सोमेंद्र तोमर और कार्यालय में जमा सैकड़ों की भीड़ के खिलाफ चुनाव आचार संहिता, कोरोना प्रोटोकाल का पालन नहीं करने और धारा 144 का उल्लंघन करने का मुकदमा दर्ज हुआ। इंस्पेक्टर संत शरण सिंह ने बताया कि वीडियो की जांच के बाद मुकदमा दर्ज किया गया है।

इनका कहना है

सभी प्रत्याशियों को आदर्श आचार संहिता के दायरे में रहना होगा। कोरोना प्रोटोकाल या आचार संहिता का पालन नहीं करने वाले प्रत्याशी या कार्यकर्ता सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। पुलिस की एक टीम सभी प्रत्याशियों का वीडियो भी बना रही है। साथ ही इंटरनेट मीडिया पर अपलोड होने वाले वीडियो पर भी नजर रखी जा रही है।

- प्रभाकर चौधरी, एसएसपी

अतुल प्रधान और मनीषा अहलावत सहित 250 पर कार्रवाई

दौराला : पूर्व विधायक चंद्रवीर ङ्क्षसह ने दौराला फ्लाईओवर के पास स्थित अपने कोल्ड स्टोरेज परिसर में गुरुवार को बिना अनुमति के विशाल जनसभा का आयोजन किया। पूर्व विधायक की बेटी व कैंट से रालोद प्रत्याशी मनीषा अहलावत जैन और सरधना से सपा प्रत्याशी अतुल प्रधान के समर्थन में हुई जनसभा में सपा व रालोद नेता मौजूद रहे। जनसभा में भारी भीड़ उमड़ी। इसके चलते कोविड-19 गाइडलाइन के साथ-साथ चुनाव आचार संहिता का भी उल्लंघन हुआ। इंस्पेक्टर दौराला नरेंद्र शर्मा पुलिस व मजिस्ट्रेट के साथ मौके पर पहुंचे। मोबाइल से कार्यक्रम की वीडियो बनाई। इंस्पेक्टर ने बताया कि पूर्व विधायक चंद्रवीर ङ्क्षसह, कैंट से रालोद प्रत्याशी मनीषा अहलावत जैन, सरधना से सपा प्रत्याशी अतुल प्रधान, पूर्व एमएलसी हरपाल सैनी, पूर्व प्रधान उपेंद्र चौधरी भराला समेत 14 लोगों को नामजद करते हुए 250 अज्ञात लोगों के खिलाफ बिना अनुमति जनसभा करने, कोविड-19 नियमों का पालन न करने और चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।

Edited By Prem Dutt Bhatt

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept