यूपी चुनाव 2022: मेरठ में वर्चुअल माध्यम से ऐसे प्रचार कर रहीं छात्र इकाइयां

UP Assembly Elections 2022 मेरठ में जैसे-जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आ रही है वैसे-वैसे प्रचार भी गति पकड़ रहा है। इसी बीच छात्र राजनीति में पार्टी का झंडा उठाने वाली इकाइयों के पदाधिकारी भी विधानसभा चुनाव के मैदान में उतर गए हैं।

Prem Dutt BhattPublish: Tue, 18 Jan 2022 03:20 PM (IST)Updated: Tue, 18 Jan 2022 03:20 PM (IST)
यूपी चुनाव 2022: मेरठ में वर्चुअल माध्यम से ऐसे प्रचार कर रहीं छात्र इकाइयां

विवेक राव, मेरठ। UP Chunav 2022 कालेजों और विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति में पार्टी का झंडा उठाने वाली इकाइयों के पदाधिकारी भी विधानसभा चुनाव के मैदान में उतर गए हैं। इनमें से कुछ प्रत्यक्ष तो कुछ परोक्ष रूप से जनसंपर्क में जुटे हैं। कोविड के दौरान कालेज और विश्वविद्यालय बंद हैं, ऐसे में ये कार्यकर्ता गली-मोहल्लों में पहुंचकर युवाओं को अपने साथ जोडऩे की कोशिश भी कर रहे हैं।

एबीवीपी: युवाओं को मतदान के लिए कर रहे जागरूक

भाजपा की छात्र इकाई अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जिले में 150-200 कार्यकर्ता टोलियों में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम चला रहे हैं। वर्चुअल माध्यम से युवाओं को राष्ट्र हित में मतदान करने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। परिषद के प्रदेश कार्यालय प्रमुख उत्तम सैनी का कहना है कि परिषद युवाओं को मतदान के लिए प्रेरित कर रही है।

एनएसयूआइ: महिलाओं और लड़कियों को जोड़ रहे कार्यकर्ता

नेशनल स्टूडेंट यूनियन आफ इंडिया कांग्रेस की छात्र इकाई है। प्रियंका वाड्रा 'लड़की हूं लड़ सकती हूं' की मुहिम चला रही हैं। एनएसयूआइ इस अभियान को आगे बढ़ा रही है। कुछ समय पहले लड़कियों की मैराथन भी कराई गई थी। 30-35 कार्यकर्ता जिले में घूमकर महिलाओं और कालेज की छात्राओं से संपर्क साध रहे हैं। एनएसयूआइ के पश्चिमी उत्तर प्रदेश अध्यक्ष रोहित राणा का कहना है कि मंडल स्तर पर हर कालेज और विश्वविद्यालय से चुङ्क्षनदा छात्राओं को लेकर जल्द ही प्रियंका वाड्रा के साथ वर्चुअल मीङ्क्षटग की जाएगी।

सछास: इंटरनेट माध्यम को दे रहे धार

कांग्रेस के 'लड़की हूं लड़ सकती हूं' के जवाब में समाजवादी छात्र सभा (सछास) 'लड़की हूं, बेहतर चुनूंगीं' की अवधारणा के साथ संपर्क साध रहे हैं। लखनऊ से आने वाले प्रचार के वीडियो क्लिप इंटरनेट मीडिया पर शेयर करते हैैं। घर-घर पाकेट कैलेंडर बांटकर मतदान की अपील कर रहे हैं। वाट्सएप और अन्य इंटरनेट माध्यम पर वीडियो फुटेज का भी जवाब दे रहे हैं। सछास के महानगर अध्यक्ष आनंद प्रकाश सिद्धार्थ का कहना है कि शहर में 21 कार्यकर्ताओं की टीम इंटरनेट माध्यम से जुड़ी है।

रालोद छात्र सभा : गठबंधन के पक्ष में तैयार कर रहे माहौल

रालोद छात्रसभा के पदाधिकारी कालेजों में सबसे अधिक हैं। छात्रसभा के जिलाध्यक्ष प्रशांत चौधरी का कहना है कि उनके कार्यकर्ता छात्र गांव-गांव में घूमकर गठबंधन के पक्ष में माहौल बना रहे हैं। वर्चुअल माध्यम से भी अभियान चला रहे हैं।

Edited By Prem Dutt Bhatt

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम