UP Chunav 2022: इस सीट से अहमद बुखारी के दामाद उमर हैं सपा प्रत्याशी, जानें इमरान मसूद से क्‍या की बात

UP Vidhan Sabha Election 2022 बेहट विधानसभा सीट पर सपा ने दिल्ली की शाही जामा मस्जिद के इमाम अहमद बुखारी के दामाद पूर्व एमएलसी उमर अली को प्रत्याशी बनाया है। बेहट सीट इमरान मसूद के प्रभाव वाली मानी जाती है।

Parveen VashishtaPublish: Sun, 23 Jan 2022 10:58 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 10:58 PM (IST)
UP Chunav 2022: इस सीट से अहमद बुखारी के दामाद उमर हैं सपा प्रत्याशी, जानें इमरान मसूद से क्‍या की बात

सहारनपुर, जागरण संवाददाता। राजनीति में कब-कौन दुश्मन और मित्र बन जाए, कहा नहीं जा सकता। सहारनपुर में इन दिनों कुछ ऐसा ही हो रहा है। राजनीति में एक दूसरे के धुर विरोधी रहे इमरान मसूद और पूर्व एमएलसी उमर अली भी रिश्तों की कड़वाहट भुलाकर गले मिल गए हैं। सपा में शामिल होने पर उमर अली ने इमरान मसूद के घर पहुंचकर उनका स्वागत किया। इमरान ने भी उमर अली को हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया।

2007 में इमरान मसूद बने थे बेहट से निर्दलीय विधायक  

बेहट विधानसभा सीट पर सपा ने दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम अहमद बुखारी के दामाद पूर्व एमएलसी उमर अली को प्रत्याशी बनाया है। बेहट सीट इमरान मसूद के प्रभाव वाली मानी जाती है। 2007 में जब यह मुजफ्फराबाद सीट थी, तब इमरान मसूद यहां से निर्दलीय विधायक बने थे। 2012 और 2017 में उन्होंने कांग्रेस में रहते हुए यहां से नरेश सैनी को चुनाव लड़ाया था। 2017 के चुनाव में नरेश सैनी कांग्रेस से विधायक बने थे। 

बेहट से टिकट मांग रहे थे इमरान 

दलबदल के दौरान सपा में गए इमरान मसूद इस सीट से टिकट मांग रहे थे। यह देख नरेश सैनी भाजपा में शामिल हो गए थे। सपा इस सीट पर पहले ही उमर अली को टिकट दे चुकी थी। अखिलेश यादव के आश्वासन पर इमरान ने सपा में रहकर ही पार्टी प्रत्याशियों को सहयोग का आश्वासन दिया था। शनिवार को नकुड़ से प्रत्याशी डा. धर्म सिंह सैनी और रविवार को उमर अली ने इमरान मसूद के घर पहुंचकर उनका स्वागत किया।

Edited By Parveen Vashishta

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept