यूपी चुनाव 2022: कैंट सीट पर रालोद प्रत्याशी के खिलाफ सपाई की बगावत, कर बैठे ये काम

UP Assembly Election 2022 सपा व रालोद के मुख्य नेताओं का दिल भले ही मिल गया हो लेकिन प्रत्याशी के चयन व सीट बंटवारे को लेकर असंतोष अभी थम नहीं रहा है। सपा नेता ने कहा जाट के बजाय वैश्य को बनाना था प्रत्याशी।

Taruna TayalPublish: Fri, 21 Jan 2022 11:40 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 11:40 PM (IST)
यूपी चुनाव 2022: कैंट सीट पर रालोद प्रत्याशी के खिलाफ सपाई की बगावत, कर बैठे ये काम

मेरठ, जागरण संवाददाता। सपा व रालोद के मुख्य नेताओं का दिल भले ही मिल गया हो लेकिन स्थानीय स्तर पर प्रत्याशी के चयन व सीट बंटवारे को लेकर असंतोष अभी थम नहीं रहा है। पहले छपरौली व सिवालखास में विरोध हुआ। अब यही विरोध कैंट सीट को लेकर सामने आ रहा है। इंटरनेट मीडिया पर आक्रोश दिखाने से जब गठबंधन की ओर से निर्णय नहीं पलटा तो सपा के एक दावेदार सन्नी गुप्ता ने मोर्चा खोल दिया और निर्दलीय नामांकन कर दिया। सन्नी का कहना है कि उन्होंने यह निर्णय अपने समर्थकों, शुभचिंतकों के निर्देश पर लिया है। वह कई साल से विधानसभा क्षेत्र की जनता के बीच सक्रिय हैं। बूथ व वार्ड कमेटी का गठन किया। कार्यक्रम कराए लेकिन यह सीट दे दी गई रालोद को। उन्होंने कहा कि यह नेताओं का निर्णय है कि कौन सी सीट किसको मिले लेकिन जातिगत समीकरण को ध्यान में रखकर प्रत्याशी का चयन करना चाहिए। एक तो जाट प्रत्याशी उतारा गया दूसरा यह कि उनकी पहचान स्थानीय स्तर पर संघर्ष की नहीं है।

सन्नी का कहना है कि उन्हें सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रालोद से सिंबल लेने के लिए दिल्ली भेजा था। कई दिन तक इंतजार कराने के बाद रालोद ने सिंबल नहीं दिया। स्वयं की पार्टी का प्रत्याशी रालोद ने उतारा जिसका लोग विरोध कर रहे हैं।

रालोद महिला प्रकोष्ठ की पूर्व

जिला अध्यक्ष ने दिया त्यागपत्र

मेरठ : रालोद में टिकट बंटवारे को लेकर असंतोष जारी है। शुक्रवार को महिला प्रकोष्ठ की पूर्व जिलाध्यक्ष संजना ठाकुर ने अपना इस्तीफा रालोद सुप्रीमो जयंत सिंह को भेज दिया। संजना ने बताया कि वर्षों से जुड़े कार्यकर्ता टिकट न मिलने से आहत हुए हैं। गठबंधन के नाम पर रालोद की उपेक्षा हुई है। उन्होंने दावा किया कि उनके साथ 80 महिलाओं ने भी पार्टी से त्यागपत्र दे दिया है।

उपेक्षा के चलते सरधना से टिकट के दावेदार पूर्व जिलाध्यक्ष राहुल देव भी इस्तीफा दे चुके हैं। सिवालखास में रालोद के सिंबल पर सपा नेता गुलाम मोहम्मद को उम्मीदवार बनाने और कैंट सीट से टिकट मिलने से कुछ देर पहले ही रालोद की सदस्यता लेने वाली मनीषा अहलावत जैन को लेकर भी कार्यकर्ताओं में रोष है। बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने दिल्ली स्थित पार्टी कार्यालय पर विरोध जताया था।

 

Edited By Taruna Tayal

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम