सपा नेता गोपाल अग्रवाल भाजपा में शामिल, आप में जाने के लग रहे थे कयास

विधानसभा चुनावों से पहले नेताओं के आने जाने का सिलसिला तेज हो गया है। मेरठ में मिशन कंपाउंड निवासी एवं दिग्गज सपा नेता गोपाल अग्रवाल ने रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य एवं स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन डा. लक्ष्मीकांत बाजपेयी की अगुआई में लखनऊ में भाजपा में शामिल।

Taruna TayalPublish: Sun, 05 Dec 2021 03:41 PM (IST)Updated: Sun, 05 Dec 2021 03:41 PM (IST)
सपा नेता गोपाल अग्रवाल भाजपा में शामिल, आप में जाने के लग रहे थे कयास

मेरठ, जेएनएन। विधानसभा चुनावों से पहले राजनीतिक पार्टियों में नेताओं के आने जाने का सिलसिला तेज हो गया है। मेरठ में मिशन कंपाउंड निवासी एवं दिग्गज सपा नेता गोपाल अग्रवाल ने रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव मौर्य एवं स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन डा. लक्ष्मीकांत बाजपेयी की अगुआई में लखनऊ में भाजपा का दामन थाम लिया। उन्हें पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का करीबी माना जाता है, लेकिन अखिलेश का दौर आने के बाद वो हाशिए पर चले गए।

गोपाल अग्रवाल सपा के हाल में आम आदमी पार्टी में शामिल होने की चर्चा थी। उन्हें सपा में पढ़े लिखे चेहरों में शुमार किया जाता था। आगरा से अस्सी के दशक में मेरठ आए। राजनीति की शुरुआत संयुक्त सोशलिस्ट पार्टी से की थी। बाद में मुलायम सिंह के करीब आए, और सपा में व्यापार प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय इकाई में सचिव बनाए गए। हालांकि गोपाल अग्रवाल खांटी लोहियावादी बने रहे, और सपा की बदलती संस्कृति से तालमेल नहीं रख सके। 2012 में अखिलेश की सरकार बनने के बावजूद उन्हें किसी निगम या प्राधिकरण में अहम पद नहीं मिला, जबकि मेरठ में आधा दर्जन से ज्यादा चेहरों को लालबत्ती मिली।

भाजपा की ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष डा. लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने बताया कि गोपाल अग्रवाल समेत पश्चिमी उप्र से दस लोगों ने भाजपा का दामन थामा है। इसमें तीन अनुसूचित वर्ग, दो ओबीसी, एक वैश्य, दो त्यागी, दो ब्राह्मण एवं एक ठाकुर चेहरा हैं। 

Edited By Taruna Tayal

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept