600 से ज्यादा टीमें आज से घर-घर खोजेंगी कोरोना मरीज

स्वास्थ्य विभाग की टीमें सोमवार से 29 जनवरी तक घर-घर पहुंचकर कोविड मरीजों का पता करेंगी। सिर्फ 26 जनवरी को अवकाश रहेगा। डा. अशोक तालियान ने बताया कि हर ब्लाक पर अलग टीम लोगों के बीच जाएगी।

JagranPublish: Mon, 24 Jan 2022 10:28 AM (IST)Updated: Mon, 24 Jan 2022 10:28 AM (IST)
600 से ज्यादा टीमें आज से घर-घर खोजेंगी कोरोना मरीज

मेरठ, जेएनएन। स्वास्थ्य विभाग की टीमें सोमवार से 29 जनवरी तक घर-घर पहुंचकर कोविड मरीजों का पता करेंगी। सिर्फ 26 जनवरी को अवकाश रहेगा। डा. अशोक तालियान ने बताया कि हर ब्लाक पर अलग टीम लोगों के बीच जाएगी। 60 से ज्यादा उम्र के ऐसे लोगों की भी सूची बनेगी, जिन्होंने कोविड वैक्सीन नहीं लगवाया है। बुखार, खांसी एवं संदिग्ध लक्षणों वाले मरीजों को किट दी जाएगी, जिसमें पैरासिटामाल समेत अन्य दवाएं होंगी। साथ ही उन्हें पास के स्वास्थ्य केंद्र भेजकर कोविड की जांच कराई जाएगी। दो साल से कम उम्र के बच्चों की भी जानकारी दर्ज होगी, जिन्हें आवश्यक टीके नहीं लग पाए।

19224 लोगों को लगी कोविड वैक्सीन

मेरठ : कोरोना संक्रमण रोकने के लिए टीकाकरण की गति बढ़ाई गई है। रविवार को 19224 डोज वैक्सीन लगाई गई। सोमवार को 50 हजार लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया है।

सीएमओ डा. अखिलेश मोहन ने बताया कि 15 से 17 वर्ष की उम्र में 2728 बच्चों को टीका लगा, जबकि 18 साल से ज्यादा उम्र के 4951 लोग कवर किए गए। अब जिले में 2.39 लाख लोग ही टीकाकरण से छूटे हैं। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक हेल्थवर्करों और फ्रंटलाइन वर्करों में सौ प्रतिशत, जबकि 45 से 60 साल में 94.7, और 18 से 44 साल में 85.9 प्रतिशत को टीका लग चुका है। मेरठ में प्रथम डोज से 90 प्रतिशत जबकि दूसरी डोज 60 प्रतिशत लोग कवर किए जा चुके हैं। अब तक 15882 को बूस्टर डोज दिया जा चुका है। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. प्रवीण गौतम ने बताया कि सोमवार को टीकाकरण का लक्ष्य बढ़ाया गया है। टीका लगवाने वालों को कोरोना के सभी वैरिएंट से बचाव मिलेगा। बच्चों को कोवैक्सीन लगाई जा रही है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept