हैंडपंप रिबोर व सीमेंट बेंच की खरीद पर प्रशासन सख्त

जागरण संवाददाता मधुबन (मऊ) जनपद के ग्राम पंचायतों में बड़े पैमाने पर हैंडपंप रिबोर मरम्

JagranPublish: Thu, 30 Sep 2021 05:02 PM (IST)Updated: Thu, 30 Sep 2021 08:53 PM (IST)
हैंडपंप रिबोर व सीमेंट बेंच की खरीद पर प्रशासन सख्त

जागरण संवाददाता, मधुबन (मऊ) : जनपद के ग्राम पंचायतों में बड़े पैमाने पर हैंडपंप रिबोर, मरम्मत और सीमेंट बेंच की खरीदारी पर लाखों रुपये की धनराशि खर्च करने के मामले में जिला प्रशासन ने सख्त रुख अख्तियार किया है। इससे ग्राम पंचायतों में खलबली मच गई है। प्रधान और सचिव अपने बचाव के लिए हैंडपंप को रिबोर कराने में जुट गए हैं।

जनपद में पंचायत चुनाव के दौरान ग्राम पंचायतों में नियुक्त प्रशासकों ने हैंडपंप रिबोर, मरम्मत के नाम पर लाखों की धनराशि व्यय कर दिया। पंचायत चुनाव के बाद ग्राम पंचायतों के गठन होने के साथ ही प्रधान और सचिव भी प्रशासकों के नक्शे-कदम पर चलते हुए हैंडपंप रिबोर, मरम्मत और सीमेंट बेंच की खरीदारी में लाखों की धनराशि धड़ाधड़ व्यय कर दिया। इसमें कई ग्राम पंचायतों ने तो 10 से 15 लाख रुपये की धनराशि केवल हैंडपंप रिबोर व मरम्मत के नाम पर खर्च कर दिया। जबकि वर्तमान में हैंडपंप पुरानी दशा में ही नजर आ रहे हैं। इतना ही नहीं सीमेंट बेंच ग्राम निधि से अनुमन्य ही नहीं है। इसके बाद भी दर्जनों गांवों में धड़ाधड़ बेंच लगवाए गए। इसका संज्ञान लेकर प्रशासन द्वारा सीमेंट बेंच के लगवाने पर रोक भी लगवा दिया गया था। इसके बावजूद फतहपुर मंडाव विकास खंड क्षेत्र के नेवादा गोपालपुर, अम्मा भेलउर सहित सहित आधा दर्जन ग्राम पंचायतों में सीमेंट बेंच लगवा दिया गया है। हालांकि इसका अभी पेमेंट नहीं किया गया है। जनपद के ग्राम पंचायतों में हैंडपंप रिबोर व मरम्मत तथा सीमेंट बेंच के नाम पर भारी भरकर धनराशि खर्च किए जाने के मामले का संज्ञान लेकर मुख्य विकास अधिकारी रामसिंह वर्मा ने सभी विकास खंड के ग्राम पंचायतों में एक अप्रैल 2021 से 15 सितंबर 2021 के बीच हैंडपंप रिबोर व मरम्मत तथा सीमेंट बेंच की खरीदारी तथा उस पर व्यय धनराशि के बाबत रिपोर्ट तलब किया गया है। इससे ग्राम पंचायतों में हड़कंप मचा हुआ है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा पत्रक जारी कर रिपोर्ट मांगा गया है। ग्राम पंचायतवार रिपोर्ट बनाकर रिपोर्ट भेजा जा रहा है।

- विजय कुमार सिंह, खंड विकास अधिकारी पुतहपुर मंडाव।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept