प्रेमी संग आई किशोरी को आरपीएफ ने किया बरामद

आरपीएफ ने कंट्रोल रूम की सूचना पर थाणे-कटरा एक्सप्रेस से किशोरी क

JagranPublish: Thu, 09 Dec 2021 04:38 AM (IST)Updated: Thu, 09 Dec 2021 04:38 AM (IST)
प्रेमी संग आई किशोरी को आरपीएफ ने किया बरामद

संवाद सहयोगी, मथुरा: आरपीएफ ने कंट्रोल रूम की सूचना पर थाणे-कटरा एक्सप्रेस से किशोरी को प्रेमी सहित बरामद कर लिया। मुंबई में किशोरी के अगवा होने का मामला दर्ज किया गया था। बुधवार को मुंबई पुलिस मथुरा पहुंच गई और दोनों को साथ ले गई।

आरपीएफ को सोमवार रात कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि थाणे- कटरा स्पेशल एक्सप्रेस के किसी कोच में एक किशोरी (14) को अगवा कर आरोपित अपने साथ ले जा रहा है। सूचना मिलते ही आरपीएफ सतर्क हो गई। आरपीएफ प्रभारी निरीक्षक अवधेश गोस्वामी ने एसआइ लोकेंद्र सिंह को किशोरी को तलाशने के आदेश दिए। ट्रेन के सुबह सवा तीन बजे के करीब जंक्शन रेलवे स्टेशन पहुंचने पर आरपीएफ जवान किशोरी को तलाश में जुट गए। किशोरी का फोटो भी आरपीएफ को मिल गया था। किशोरी और आरोपित डी-4 कोच में मिल गए। आरपीएफ ने किशोरी को रेलवे चाइल्ड लाइन के सिपुर्द कर दिया। मुंबई पुलिस को भी सूचना कर दी गई। बुधवार को मुंबई के काशीमीरा थाने के एसआइ एसएस चौहान, हैड कांस्टेबल बागल, महिला सिपाही भारती देशमुख आरपीएफ थाने पहुंच गए। आरपीएफ प्रभारी निरीक्षक अवधेश गोस्वामी ने बताया कि किशोरी के अगवा करने की रिपोर्ट पिता ने काशीमीरा थाने में कराई थी। अमन सिंह निवासी कैथल हरियाणा किशोरी को लेकर जा रहा था। अमन का कहना था कि वह किशोरी को घुमाने के लिए ले जा रहा था। आरोपित किशोरी के मुहल्ले में सफाई का काम करता है। आवश्यक कार्रवाई के बाद मुंबई पुलिस दोनों को साथ ले गई। फसल डूबने पर दी किसान ने खुदकुशी की धमकी: महुअन विकास खंड फरह के गांव भहाई में नाले की पटरी टूटने से एक किसान की फसल जलमग्न हो गई। प्रभावित किसान ने डीएम और सिचाई विभाग के अधिकारियों को भी काल किए। मगर, किसी ने काल रिसीव नहीं किया। सिचाई विभाग की लापरवाही से फसल के नष्ट होने से परेशान किसान ने परिवार के साथ खुदकुशी की धमकी दी है।

अछनेरा-मथुरा रेल लाइन के पास गढ़ी बेरी पुलिया समीप गांव भहाई निवासी किसान भगत सिंह के खेत हैं। पास में ही सिचाई विभाग का नाला है। यहां पुलिया का निर्माण कराने को नाले को बंद कर दिया गया। इससे नाले से पानी की निकासी नहीं हो रही है। ओवरफ्लो होकर नाले की पटरी टूट गई और किसान की पांच बीघा सरसों और गेहूं की फसल जलमग्न हो गई। भगत सिंह का कहना, दो दिन से वह सिचाई विभाग के अधिकारी और डीएम को काल कर रहा हूं, लेकिन कोई उसके काल को रिसीव नहीं कर रहा है। उनका कहना है, उसका परिवार खेती पर निर्भर है। जो बर्बाद हो गई। इससे वह मुसीबत में फंस गया है। किसान का कहना है, नष्ट हुई फसल का मुआवजा दिलाया गया तो वह अपने परिवार के साथ खुदकुशी कर लेगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम