एक्सप्रेस वे पर कट मंजूर होने तक जारी रहेगा आंदोलन

यमुना एक्सप्रेस वे पर टैंटीगांव-सुरीर के मध्य कट और सर्विस रोड के निर्माण की मांग पूरी होने तक धरना जारी रहेगा। रविवार को आंदोलित किसानों ने यमुना एक्सप्रेस वे पर पैदल मार्च की घोषणा की लेकिन वे पैदल मार्च नहीं कर सके। धरना खत्म कराने को प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने प्रयास किए। मगर आंदोलित किसान अपनी मांग पर अड़े रहे। मांग पूरी होने तक आंदोलन जारी रखने का एलान भी किया।

JagranPublish: Mon, 27 Dec 2021 05:17 AM (IST)Updated: Mon, 27 Dec 2021 05:17 AM (IST)
एक्सप्रेस वे पर कट मंजूर होने तक जारी रहेगा आंदोलन

संवादसूत्र, सुरीर: यमुना एक्सप्रेस वे पर टैंटीगांव-सुरीर के मध्य कट और सर्विस रोड के निर्माण की मांग पूरी होने तक धरना जारी रहेगा। रविवार को आंदोलित किसानों ने यमुना एक्सप्रेस वे पर पैदल मार्च की घोषणा की, लेकिन वे पैदल मार्च नहीं कर सके। धरना खत्म कराने को प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों ने प्रयास किए। मगर आंदोलित किसान अपनी मांग पर अड़े रहे। मांग पूरी होने तक आंदोलन जारी रखने का एलान भी किया।

यमुना एक्सप्रेस वे पर कट समेत तीन सूत्रीय मांगों को लेकर कस्बा टैंटीगांव में अंडरपास पुल के निर्माण की मांग को लेकर किसान किसान धरना दे रहे हैं। किसानों का रविवार को एक्सप्रेस वे पर पैदल मार्च निकालने का कार्यक्रम था। इसके मद्देनजर प्रशासन ने एक्सप्रेस वे पर पुलिस और पीएसी तैनात कर दी। एसडीएम मांट आदित्य प्रजापति और सीओ मांट एनपी सिंह सुबह ही धरना स्थल पर पहुंच गए। धरना स्थल पर सुबह से ही किसान और ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित होने लगी। जिसे महापंचायत में बदल दिया गया। भाकियू लोकशक्ति के राष्ट्रीय अध्यक्ष मास्टर श्योराज सिंह ने कहा, कट और सर्विस रोड की मांग पूरी होने तक टैंटीगांव में धरना जारी रहेगा। उन्होंने इसके लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों को आंदोलन से जोड़ने की बात पर बल दिया। किसान नेता रामबाबू कटेलिया ने कहा, हक मांगने से नहीं छीनने से मिलता है। इसके लिए लंबी लड़ाई लड़ने को तैयार रहना होगा। रालोद नेता कुंवर नरेंद्र सिंह और योगेश नौहवार ने कहा, वह किसानों की इस लड़ाई में कंधा से कंधा मिलाकर उनके साथ हैं। क्षेत्र के विधायक श्याम सुंदर शर्मा ने कहा, वह एक्सप्रेस वे पर कट व सर्विस रोड के निर्माण की मांग को पूरा कराने के लिए प्रतिबद्ध हैं। शासन से लड़ाई लड़कर कट मंजूर कराया जाएगा। धरने की बागडोर संभाल रहे भाकियू लोकशक्ति के मंडल उपाध्यक्ष भूपेंद्र सिंह राजपूत ने कहा,धरना अनवरत चलता रहेगा और प्रशासन का याद दिलाने के लिए 15 जनवरी को महापंचायत बुलाई जाएगी। भाकियू लोकशक्ति के उपाध्यक्ष डा. कुलदीप लवानियां, जिलाध्यक्ष रमेश फौजी, प्रदेश सचिव महिला विग सुनीता ठाकुर, डीसीएस ग्रुप के चेयरमेन ओमप्रकाश चौधरी समेत किसान नेताओं ने पंचायत को को संबोधित किया। अध्यक्षता लाला रामविहारी आर्य और संचालन महावीर स्वामी ने किया। भाकियू लोकशक्ति आगरा के जिलाध्यक्ष दीपक सिंह, वीरेंद्र सिंह प्रधान, धर्मपाल सिंह, प्रमोद लवानियां, लोकेश ठाकुर, कपिल भाटिया, विष्णु भाटिया, दीपक गुप्ता, दीपक कौशिक, मुरारी लंबरदार, जीते प्रधान, सोहनलाल गुप्ता, बाबूलाल गुप्ता, मुरारी तरकर, प्रवीण पाठक, गुड्डू ठाकुर, पंकज पुंडीर, पोहप सिंह प्रधान, बांकेलाल प्रधान, सुखवीर प्रधान, होशियार प्रधान, जगदीश शर्मा आदि मौजूद थे।

......

किसानों को मिला व्यापारियों का समर्थन संवाद सूत्र, टैंटीगांव: एक्सप्रेस वे पर कट समेत तीन सूत्रीय मांगों को लेकर चल रहे आंदोलन में किसानों को टैंटीगांव और सुरीर के व्यापारियों का भी समर्थन मिल रहा है। रविवार को अपने प्रतिष्ठान बंद रख कर टैंटीगांव के सभी व्यापारी धरना स्थल पर मौजूद रहे। सुरीर से भी काफी व्यापारी धरना में शामिल होने को पहुंचे। एक्सप्रेस वे पर पैदल मार्च को रोकने के उद्देश्य से प्रशासन ने चाक-चौबंद व्यवस्था की थी। किसान नेताओं ने स्थिति को देखते हुए पैदल मार्च का कार्यक्रम स्थगित कर उसे पंचायत में बदल दिया था।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept