230 केंद्रों पर 3446 किशोर ने लगवाई वैक्सीन

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए वैक्सीनेशन पर जोर दे रहा स्वास्थ्य विभाग जासं मैनपुरी कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बाद किशोर की सुरक्षा सर्वोपरि है। शासन ने 1

JagranPublish: Sun, 16 Jan 2022 06:35 AM (IST)Updated: Sun, 16 Jan 2022 06:35 AM (IST)
230 केंद्रों पर 3446 किशोर ने लगवाई वैक्सीन

जासं, मैनपुरी: कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बाद किशोर की सुरक्षा सर्वोपरि है। शासन ने 15 से 18 साल की उम्र वाले सभी किशोर का वैक्सीनेशन कराने के लिए कहा है, अब इस कार्य में शिक्षाधिकारियों को किशोरो का वैक्सीनेशन कराने के निर्देश दिए हैं। जिले में शनिवार को 230 केंद्रों पर 3446 किशोर ने वैक्सीन लगवाई।

जिले में लगभग 1.50 लाख किशोर को कोवैक्सीन का डोज लगाया जाना है। इसके लिए हर एक केंद्र पर सुविधा तो कराई गई है, लेकिन अभिभावकों और शिक्षकों की अनदेखी की वजह से यह संख्या बढ़ नहीं रही है। शनिवार को जिले में 230 बूथों पर वैक्सीनेशन का आयोजन कराया गया। शाम छह बजे तक इन केंद्रों पर सिर्फ 3446 किशोर ने ही वैक्सीन लगवाई।

जिले में अब तक कुल 42512 किशोर अपना वैक्सीनेशन करा चुके हैं। सीएमओ डा. पीपी सिंह का कहना है कि सभी अभिभावक गंभीरता दिखाएं और अपने बच्चों को लेकर बूथों पर पहुंचें। वैक्सीन कोरोना से संक्रमण को रोकने में सहायक है। उधर शनिवार को डीआइओएस मनोज कुमार वर्मा ने सभी विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे कक्षा नौ से कक्षा 12 में पढ़ने वाले विद्यार्थियों का वैक्सीनेशन कराएं। इसकी जिम्मेदारी प्रधानाचार्यों की है। यदि इसमें लापरवाही होती है तो ऐसे लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई जाएगी।

बगैर वैक्सीनेशन नहीं दे सकेंगे प्री बोर्ड परीक्षा: नेशनल इंटर कालेज के प्रभारी प्रधानाचार्य मदन कुमार ने कहा है कि प्री बोर्ड परीक्षा 20 जनवरी से आरंभ होगी। सिर्फ उन्हीं विद्यार्थियों को परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दी जाएगी जो वैक्सीनेशन का अपना प्रमाण पत्र साथ लेकर आएंगे। एबीएसए बेवर सर्वेश सिंह ने शनिवार को आधा दर्जन गांवों का भ्रमण कर वैक्सीनेशन का भौतिक सत्यापन किया। उन्होंने ग्रामीणों से इस अभियान में सहयोग करने की अपील की है। पता ही नहीं चला कब लग गई कोरोना वैक्सीन

जासं, मैनपुरी: शनिवार को गांव विजयपुर में वैक्सीन केंद्र पर आया एक युवक टीका लगवाने की बात सुनकर पहले डरा, लेकिन समझाने पर वह मान गया। वैक्सीन कब लग गई, उसे पता ही नहीं चला।

कोरोना सक्रमण के खिलाफ बड़ी लड़ाई जन-जागृति अभियान को माना गया है। इसी उद्देश्य को साकार करन के लिए बेसिक शिक्षा विभाग के अधिकारी और शिक्षक जुटे हुए हैं। इस कार्य में शिक्षक, शिक्षा मित्र, अनुदेशक और रसोइयों को भी लगाया गया है। खण्ड शिक्षा अधिकारी सुमित कुमार भी घर-घर जाकर वैक्सीन लगवाने के लिए ग्राीणों को जागरूक कर रहे हैं।

शनिवार को बीईओ ने विजयपुर, बिछिया, लहराएमनीपुर, रतिभानपुर, रम्पुरा, मकरन्दपुर में ग्रामीणों को जागरूक किया। उन्होंने कहा कि कोविड के खिलाफ जंग में वैक्सीन एक सुरक्षा कवच है, वैक्सीन कोविड के संक्रमण से बचाती है। उन्होंने ग्रामीणों से दोनों डोज लगवाने को कहा। ड्यू लिस्ट के अनुसार, घर-घर जाकर दूसरी डोज से वंचित अथवा जिन्होंने पहली भी डोज नहीं लगवाई, उन्हें वैक्सीनेशन सेंटर तक लाने के लिए शिक्षक, शिक्षा मित्र, अनुदेशक और रसोइया भी सहयोग प्रदान कर रही हैं।

जागरूकता अभियान के दौरान रचना, शिवानी यादव, अरविद चौहान, नरेन्द्र कालरा, रीना यादव, अनीता सिंह चौहान, अभिषेक सिंह, देवेश कुमार, प्रीती कश्यप, दयाशंकर पाल, शिवानी सिंह, सुभा सिंह, नीरज यादव, नीरूवाला जैन, नीलम भदौरिया,जितेन्द्र सिंह,रमेश सिंह, गीता यादव, नरेश चन्द्र, रीता चौहान, कमलेश शाक्य आदि शिक्षकों नें टीकाकरण में घर.घर जाकर वैक्सीन लगवाने का अनुरोध किया।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम