मास्क से दूरी कहीं पड़ न जाए भारी

मास्क को लेकर बेपरवाह शहरवासी शारीरिक दूरी का भी नहीं रखा जा रहा ख्याल

JagranPublish: Tue, 30 Nov 2021 06:45 AM (IST)Updated: Tue, 30 Nov 2021 06:45 AM (IST)
मास्क से दूरी कहीं पड़ न जाए भारी

जासं, मैनपुरी: कोरोना के नए स्ट्रेन ओमिक्रान को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन और शासन दोनों ही अलर्ट जारी कर चुके हैं। जिलों में भी सतर्कता बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं, लेकिन जिले के वाशिंदे बेफिक्र हैं। मास्क और शारीरिक दूरी के प्रति लोगों में गंभीरता नहीं दिख रही है।

कोरोना के नए स्ट्रेन के सामने आने के बाद शासन ने सभी जिलों की स्वास्थ्य सेवाओं को अलर्ट पर रखने के निर्देश दिए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी साफ कर दिया है कि मास्क के जरिए ही इस वायरस को प्राथमिक स्तर पर आगे बढ़ने से रोका जा सकता है, जबकि जिले में मास्क को लेकर अनदेखी की जा रही है। स्वास्थ्य संस्थानों पर ही लापरवाही देखने को मिल रही है। सोमवार को जिला अस्पताल की ओपीडी में आने वाले ज्यादातर मरीज बिना मास्क के ही प्रवेश कर रहे थे। यहां ज्यादातर चिकित्सक और कर्मचारी भी बिना मास्क के ही बैठकर मरीजों को देख रहे थे। सीएमओ कार्यालय परिसर का हाल भी ऐसा ही था। ज्यादातर चिकित्सक और स्टाफ बिना मास्क के मिले। ज्यादातर कार्यालयों में तो शारीरिक दूरी का भी ख्याल नहीं रखा गया था। इमरजेंसी का हाल भी ऐसा ही था। जिन स्वास्थ्य सेवाओं को शासन ने अलर्ट रहने को कहा है, वहां जिम्मेदार ही लापरवाही बरत रहे हैं। वायरस से बचाव को मास्क है जरूरी

जिला अस्पताल के वरिष्ठ परामर्शदाता और एनेस्थेटिक डा. पीके दुबे का कहना है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क ही एकमात्र बचाव है। वायरस किसी व्यक्ति के छींकने और खांसने से निकलने वाली ड्रापलेट्स के जरिए सामने खडे़ इंसान में प्रवेश करता है। ट्रिपल लेयर्ड मास्क का इस्तेमाल करने से ड्रापलेट्स में मौजूद वायरस शरीर में प्रवेश नहीं करते हैं।

दुकानदार भी हुए बेफिक्र

शहर के सभी दुकानदार पूरी तरह से बेफिक्र हो चुके हैं। इस शर्त पर दुकानों के संचालन की अनुमति दी गई थी कि वे दुकानों के बाहर बांस की बल्लियां लगाकर रखेंगे। ग्राहकों को शारीरिक दूरी के प्रति जागरूक करेंगे और सैनिटाइजर का इस्तेमाल कराएंगे, लेकिन यह शर्त अब समाप्त कर दी है। सभी दुकानों पर लोगों की भीड़ उमड़ रही है। स्वास्थ्य सेवाओं से जुडे़ सभी कर्मचारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे मास्क पहनकर ही कार्यालय में पहुंचेंगे। बिना मास्क के आने वाले चिकित्सकों और कर्मचारियों से नियमों के उल्लंघन के तहत जुर्माना वसूला जाएगा। जिला अस्पताल के अलावा सभी सीएचसी, पीएचसी पर भी इस नियम का पालन कराया जाएगा।

-डा. पीपी सिंह, सीएमओ

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept