बालिकाओं को अधिकारों के प्रति करें जागरूक: सीडीओ

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि बालिकाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करें। ताकि वह सशक्त होकर समाज में आगे बढ़ें और विभिन्न क्षेत्रों में अपनी पहचान बनाएं।

JagranPublish: Tue, 25 Jan 2022 01:11 AM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 01:11 AM (IST)
बालिकाओं को अधिकारों के प्रति करें जागरूक: सीडीओ

महराजगंज: विकास भवन सभागार में सोमवार को मुख्य विकास अधिकारी गौरव सिंह सोगरवाल की अध्यक्षता में राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस दौरान पोस्को एक्ट के विभिन्न प्रावधानों, चाइल्ड ट्रैफिकिग, बाल विवाह, लिग अनुपात जैसे विभिन्न मुद्दों पर जानकारी दी गई।

मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि बालिकाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करें। ताकि वह सशक्त होकर समाज में आगे बढ़ें और विभिन्न क्षेत्रों में अपनी पहचान बनाएं। उन्होंने कहा कि इस गोष्ठी में विभिन्न विभागों की महिला कर्मचारियों को इसलिए शामिल किया गया है, क्योंकि आप लोग बच्चों व महिलाओं से संबंधित मुद्दों के प्रति अधिक संवेदनशील होती हैं। आप लोग बालिकाओं को जागरूक करें। लड़का-लड़की के भेदभाव की सोच रखने वाले अभिभावकों को बताएं कि परिस्थितियां बदल चुकी है। लड़का-लड़की में कोई अंतर नहीं है। महिलाएं भी पुरुषों से कंधा से कंधा मिलाकर चल रही हैं। बाल विवाह न करने का सुझाव दें, उन्हें बताएं की यह कानूनी रूप से अपराध है।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव प्रागदत्त शुक्ल ने कहा कि बालिकाओं को शिक्षित करने की जरूरत है। इसलिए बेटियों की शिक्षा पर भी जोर देने की आश्यकता है। जब वह शिक्षित होंगी, तो अपने अधिकारों के प्रति जागरूक भी होंगी। गोष्ठी का संचालन जिला प्रोबेशन अधिकारी डीसी त्रिपाठी ने किया। डीपीआरओ के बी वर्मा, डीआइओएस अशोक कुमार सिंह समेत विभिन्न विभागों की महिला कर्मचारी व अन्य महिलाएं उपस्थित रहीं।

भुगतान को लेकर प्रधानों ने किया ब्लाक पर प्रदर्शन

महराजगंज: लक्ष्मीपुर ब्लाक मुख्यालय पर सोमवार को बड़ी संख्या में ग्राम प्रधानों ने प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि विकास कार्य पूर्ण होने के बावजूद भुगतान न होने से काफी परेशान हैं। ग्राम पंचायतों में आइडी जनरेट होने के बावजूद टीएस व एएस न होने के कारण फाइलें लंबित पड़ी हैं। ग्राम प्रधान नरेन्द्र सिंह, नुरूलहोदा, तबरेज, अखिलेश चौधरी, अजय यादव, अखलद, नबी अहमद, बीके सिंह, संतोष, अखिलेश्वर शुक्ला, शमसेर, रामसहाय, सुग्रीव यादव, नौशाद, नरेंद्र यादव, दीनानाथ आदि ने बीडीओ की कार्यप्रणाली पर असंतोष व्यक्त करते हुए विरोध जताया। गांव के विकास कार्यों में जांच के नाम अवरूद्ध करते रहते हैं। वही मनरेगा में 42 ग्राम पंचायतों का आइडी जनरेट न होने के कारण जीरो कर दिया गया। खंड विकास अधिकारी योगेंद्र राम त्रिपाठी ने बताया कि प्रधानों की समस्याओं का निराकरण किया जाएगा। सीडीओ गौरव सिंह सोगरवाल ने बताया कि ग्राम प्रधानों से जुड़े मामले की जानकारी मिली है। मामला गंभीर है, जांच कर तत्काल निराकरण कराया जाएगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept