गणतंत्र दिवस को लेकर भारत-नेपाल सीमा पर अलर्ट

तिनाव व डंडा नदी के विभिन्न घाटों से भारत आने वाले लोगों को जांच के बाद भी प्रवेश दिया गया। एसएसबी के डीआइजी मनजीत पड्डा ने बताया कि गणतंत्र दिवस को लेकर भारत-नेपाल सीमा पर सख्ती बढ़ा दी गई है। जवानों को गश्त व जांच के निर्देश दिए गए हैं।

JagranPublish: Wed, 26 Jan 2022 01:12 AM (IST)Updated: Wed, 26 Jan 2022 01:12 AM (IST)
गणतंत्र दिवस को लेकर भारत-नेपाल सीमा पर अलर्ट

महराजगंज: गणतंत्र दिवस के मद्देनजर भारत-नेपाल सीमा पर अलर्ट जारी किया गया है। मंगलवार को एसएसबी की 22वीं बटालियन के जवान सोनौली व भगवानपुर सीमा पर भी तैनात रहे। नेपाल से भारत में प्रवेश करने वाले सभी नागरिकों से सघन जांच व पूछताछ किया गया। सोनौली सीमा पर मेटल डिटेक्टर व डाग स्क्वायड टीम से भी भी जांच कर रही है। एसएसबी की 66वीं बटालियन के जवान भी डंडा हेड, खनुआ, हरदीडाली, सुंडी, दोमुहान घाट व चन्नी थान समेत अन्य चौकियों व पगडंडियों पर गश्त करते दिखे। तिनाव व डंडा नदी के विभिन्न घाटों से भारत आने वाले लोगों को जांच के बाद भी प्रवेश दिया गया। एसएसबी के डीआइजी मनजीत पड्डा ने बताया कि गणतंत्र दिवस को लेकर भारत-नेपाल सीमा पर सख्ती बढ़ा दी गई है। जवानों को गश्त व जांच के निर्देश दिए गए हैं। एसएसबी डीआइजी व एसपी ने की नेपाल सीमा पर गश्त

सशस्त्र सीमा बल के उपमहानिरीक्षक मनजीत सिंह पड्डा व महराजगंज के पुलिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने मंगलवार को भारत-नेपाल की सोनौली सीमा का निरीक्षण किया। सोनौली मुख्य गेट से श्यामकाट बागीचे तक गश्त करने के बाद मातहतों के साथ बैठक कर गणतंत्र दिवस पर विशेष चौकसी बरतने के निर्देश दिए। एसएसबी डीआइजी ने कहा कि गणतंत्र दिवस व आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जवानों को अराजकतत्वों की घुसपैठ रोकने के लिए विशेष चौकसी बरतनी होगी। भारतीय पुलिस व नेपाली प्रशासन के साथ समन्वय के साथ अपराधी प्रवृत्ति के लोगों व संदिग्ध लोगों को पकड़ा जाए। एसपी प्रदीप गुप्ता ने कहा कि चुनाव व गणतंत्र दिवस के मद्देनजर सरहद के सभी नाकों व भीड़ भाड़ भरे सार्वजनिक स्थलों पर विशेष निगरानी बरती जाए। एसएसबी 66वीं बटालियन के सेनानायक बरजीत सिंह, एसएसबी 22वीं बटालियन के असिस्टेंट कमांडेंट अनीश कुमार, सोनौली पुलिस इंस्पेक्टर संजय सिंह, एसएसबी इंस्पेक्टर आरएस अहीर, चौकी प्रभारी सोनौली स्वतंत्र कुमार सिंह व चौकी प्रभारी भगवानपुर प्रशांत पाठक आदि उपस्थित रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept