यूपी पालीटेक्निक विषम सेमेस्टर की परीक्षाएं स्थगित, जानें- अब कब से शुरू होंगे एग्जाम

कोरोना व चुनाव के चलते पालीटेक्निक की प्रस्तावित सेमेस्टर परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं हैं। अब ये परीक्षाएं 15 मार्च से शुरू होंगी। प्राविधिक शिक्षा परिषद के सचिव एसके सोनकर ने बताया कि प्राविधिक शिक्षा निदेशक मनाेज कुमार की अध्यक्ष में परीक्षा समिति की बैठक में इसका निर्णय लिया गया।

Vikas MishraPublish: Sun, 16 Jan 2022 04:27 PM (IST)Updated: Sun, 16 Jan 2022 09:13 PM (IST)
यूपी पालीटेक्निक विषम सेमेस्टर की परीक्षाएं स्थगित, जानें- अब कब से शुरू होंगे एग्जाम

लखनऊ, जागरण संवाददाता। कोरोना संक्रमण व चुनाव के चलते पालीटेक्निक की 20 जनवरी से प्रस्तावित सेमेस्टर परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं हैं। अब ये परीक्षाएं 15 मार्च से शुरू होंगी। प्राविधिक शिक्षा परिषद के सचिव एसके सोनकर ने बताया कि प्राविधिक शिक्षा निदेशक मनाेज कुमार की अध्यक्ष में हुई परीक्षा समिति की बैठक में इसका निर्णय लिया गया। प्रदेश में 154 सरकारी, 19 अनुदानित और करीब 1177 प्राइवेट पालीटेक्निक की विषम सेमेस्टर, बैकपेपर, मल्टी प्वांइट इंट्री उवं क्रेडिट सिस्टम समेत सभी तरह की परीक्षाएं स्थगित हो गईं हैं।

पढ़ाई में व्यवधान न आए इसके लिए 22 जनवरी से आनलाइन कक्षाओं के संचालन का निर्णय लिया गया। शैक्षिक कैलेंडर के अनुसार परीक्षाएं हर साल 20 जनवरी से होती हैं। विद्यार्थियों से तकनीकी बोर्ड ने परीक्षा फार्म भरवा चुका है। परीक्षा में करीब दो लाख विद्यार्थी शामिल होंगे। बोर्ड ने परीक्षा को लेकर अन्य तैयारी शुरू भी कर दी हैं, लेकिन विधान सभा और कोरोना महामारी के ओमीक्रान वेरिएंट के बढ़ने से परीक्षा पर संकट के बादल मंडराने लगे थे। जानकारों का कहना है कि प्राविधिक शिक्षा परिषद यह मान कर चल रहा था कि विधान सभा चुनाव मार्च में होंगे, लेकिन उसका अनुमान गलत साबित हो रहा है। अभी तक प्राप्त जानकारी के मुताबिक विधान सभा चुनाव की प्रक्रिया जनवरी में ही शुरू होगी।

ऐसे में परीक्षा कराना काफी मुश्किल होगा,क्योंकि प्राविधिक शिक्षा परिषद से लेकर सरकारी पालीटेक्निक तक के पूरे स्टाफ की चुनाव में ड्यूटी लगती है। इसकी शुरुआत भी हो चुकी है। हालांकि प्राविधिक शिक्षा परिषद ने चुनाव आयोग से ड्यूटी नहीं लगाने की गुजारिश की है कि उनके स्टाफ को चुनाव ड्यूटी से छूट दी जाए लेकिन आयोग ने इसे स्वीकार नहीं किया है। प्राविधिक शिक्षा परिषद के सचिव सुनील सोनकर की ही ड्यूटी लगी है। आयोग ने उन्हें नोडल अफसर बनाया है, उन्होंने परीक्षा का हवाला देते हुए आयोग से ड्यूटी निरस्त करने का अनुरोध किया था,लेकिन आयोग ने उनके अनुरोध को स्वीकार नहीं किया है।

ड्यूटी के साथ ही मतदान केंद्र के लिए पॉलीटेक्निक संस्थाओं को अधिग्रहण भी शुरू हो गया है। रही सही कसर कोरोना की तीसरी लहर की संभावनाओं ने पूरी कर दी। इन परिस्थितियों को देखकर प्राविधिक शिक्षा परिषद भी निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार परीक्षा सम्पन्न होने को लेकर दुविधा में था। अब परिस्थिति और शासन के निर्देश को ध्यान में रखते हुए परीक्षा को स्थगित करने का निर्णय लिया गया।

Edited By Vikas Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept