Action Against Criminals: यूपी पुलिस ने 800 अपराधियों को किया चिह्नित, अब तक ढाई अरब की अवैध संपत्ति जब्त

Action Against Criminals सीएम योगी आदित्यनाथ ने पहले ही अपनी प्रतिबद्धता जता दी थी कि अपराधियों के लिए यूपी में कोई जगह नहीं है। प्रदेश स्तर पर बड़े माफिया पर शिकंजा कसते हुए अब जिले स्तर पर भी बड़े व आदतन अपराधियों को चिह्नित किया गया है।

Umesh TiwariPublish: Wed, 08 Sep 2021 02:01 PM (IST)Updated: Wed, 08 Sep 2021 02:02 PM (IST)
Action Against Criminals: यूपी पुलिस ने 800 अपराधियों को किया चिह्नित, अब तक ढाई अरब की अवैध संपत्ति जब्त

लखनऊ, जेएनएन। कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की जीरो टालरेंस की नीति का असर धरातल पर भी दिख रहा है। पुलिस ने जिले स्तर पर भी 800 आपराधियों को चिह्नित किया है। अब इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की तैयारी है। पुलिस कुर्की से लेकर संपत्ति तक जब्त कर बदमाशों की कमर तोड़ रही है। ऐसे करीब ढाई अरब रुपये की अवैध संपत्ति को पुलिस ने जब्त किया है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था को लेकर पहले ही अपनी प्रतिबद्धता जता दी थी कि अपराधियों के लिए उत्तर प्रदेश में कोई जगह नहीं है। वे जेल में रहेंगे या प्रदेश के बाहर। प्रदेश स्तर पर बड़े माफिया पर शिकंजा कसते हुए अब जिले स्तर पर भी बड़े व आदतन अपराधियों को चिह्नित किया गया है।

यूपी पुलिस के अनुसार जिले स्तर पर जुलाई माह तक करीब 800 आपराधिक माफिया को चिह्नित किया गया है। आठ हजार से ज्यादा मुकदमे दर्ज कर 668 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने मुठभेड़ में तीन आपराधिक माफिया को मार भी गिराया है। 12 आरोपियों की कुर्की करते हुए 25 आरोपियों पर रासुका लगाया गया है। 567 आरोपियों पर गैंगेस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

पुलिस ने जिले स्तर पर कानून व्यवस्था में रोड़ा बन रहे 233 आपराधियों पर गुंडा एक्ट के तहत कार्रवाई की है और 11 शस्त्र लाइसेंस निरस्त किए हैं। इसके अलावा ऐसे 382 बदमाशों की हिस्ट्रीशीट भी खोली गई है और 274 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। पुलिस अफसरों का कहना है कि कानून व्यवस्था को और बेहतर बनाने के लिए सूक्ष्म स्तर पर ही सख्त कार्रवाई की जा रही है, ताकि कानून का खौफ हर किसी में हो।

ये हैं प्रदेश के 25 बड़े माफिया : गाजीपुर जिले के युसूफपुर मोहम्दाबाद निवासी मुख्तार अंसारी, प्रयागराज जिले के खुल्दाबाद थाना क्षेत्र निवासी अतीक अहमद, वाराणसी जिले के चौबेपुर निवासी बृजेश कुमार सिंह उर्फ अरुण कुमार सिंह, लखनऊ जिले के हसनगंज निवासी ओमप्रकाश उर्फ बब्लू श्रीवास्तव, बिजनौर जिले के स्योहारा थाना क्षेत्र निवासी मुनीर, अंबेडकरनगर जिले के हंसवार थानाक्षेत्र निवासी खान मुबारक, गाजियाबाद जिले के लोनी निवासी अमित कसाना, शामली जिले के आदर्श मंडी निवासी आकाश जाट, मेरठ जिले के सरूरपुर निवासी उधम सिंह, मेरठ जिले के सरूरपुर निवासी योगेश भदौड़ा, बागपत जिले के बड़ौत निवासी अजीत उर्फ हप्पू, मुजफ्फरनगर जिले के रतनपुर निवासी सुशील उर्फ मूंछ, मुजफ्फरनगर जिले के कोतवाली निवासी संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा, गौतमबुद्धनगर जिले के कासना निवासी सुन्दर भाटी उर्फ नेताजी, गौतमबुद्धनगर जिले के कासना निवासी अनिल भाटी, गौतमबुद्धनगर जिले के बादलपुर निवासी अनिल दुजाना उर्फ अनिल नागर, गौतमबुद्धनगर जिले के दनकौर निवासी सिंघराज भाटी, गौतमबुद्धनगर जिले के जारचा निवासी अंकित गुर्जर, वाराणसी जिले के कोतवाली निवासी सुभाष सिंह ठाकुर, आजमगढ़ जिले के जीयनपुर निवासी ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह, गाजीपुर जिले के मुहम्मदाबाद उमेश राय उर्फ गौरा राय, गाजीपुर जिले के सैदपुर निवासी त्रिभुवन सिंह उर्फ पवन कुमार, लखनऊ जिले के कैंट निवासी मो. सलीम, लखनऊ जिले के कैंट निवासी मो. सोहराब और लखनऊ जिले के कैंट निवासी मो. रुस्तम हैं।

Edited By Umesh Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept