This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

UP Panchayat Election-Third Phase: तीसरे चरण का प्रचार समाप्त, 20 जिलों में 26 को होगा मतदान

UP Panchayat Election-Third Phase उत्तर प्रदेश में त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव में 26 अप्रैल को मेरठ के साथ ही पंचायती राज विभाग के मंत्री चौधरी भूपेंद्र सिंह के गृह जनपद मुरादाबाद व कानपुर देहात समेत 20 जिलों में मतदान होगा।

Dharmendra PandeySun, 25 Apr 2021 08:23 AM (IST)
UP Panchayat Election-Third Phase: तीसरे चरण का प्रचार समाप्त, 20 जिलों में 26 को होगा मतदान

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में गांव की सरकार बनाने के लिए चल रहे पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में अब 26 अप्रैल को मतदान होंगे। तीसरे चरण के मतदान के लिए प्रचार शनिवार को समाप्त हो गया। तीसरे चरण के मतदान में 20 जिलों के वोटर अपने प्रतिनिधि को चुनेंगे।

उत्तर प्रदेश में त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव में 26 अप्रैल को मेरठ के साथ ही पंचायती राज विभाग के मंत्री चौधरी भूपेंद्र सिंह के गृह जनपद मुरादाबाद व कानपुर देहात समेत 20 जिलों में मतदान होगा। इन सभी जिलों में शनिवार शाम को प्रचार का शोर थम गया। प्रदेश में तीसरे चरण में होने वाले मतदान में 3,05,71,613 मतदाता अपने अधिकार का प्रयोग करेंगे।

राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने बताया कि तीसरे चरण के चुनाव में 746 जिला पंचायत वार्ड, 18530 क्षेत्र पंचायत वार्ड तथा 180473 ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य पदों के अलावा 14379 ग्राम प्रधान पदों के लिए 26 अप्रैल को प्रात: सात से सायं छह बजे तक वोट डाले जाएंगे। प्रेक्षकों को आचार संहिता का सख्ती से पालन कराने और कोविड प्रोटोकाल का पालने किए जाने की हिदायत दी।

इन 20 जिलों में मतदान: 26 अप्रैल को अमेठी, उन्नाव, औरैया, कानपुर देहात, कासगंज, चंदौली, जालौन, देवरिया, पीलीभीत, फतेहपुर, फीरोजाबाद, बलरामपुर, बलिया, बाराबंकी, मेरठ, मुरादाबाद, मीरजापुर, शामली, सिद्धार्थनगर व हमीरपुर में मतदान होगा।

प्रेक्षकों ने संभाला मोर्चा: अब यहां पर निष्पक्ष निर्वाचन कराने के लिए प्रेक्षकों ने अपने जिलों में मोर्चा संभाल लिया है। जिन तीन प्रेक्षकों ने शनिवार को कामकाज नहीं संभाला, उनसे जवाब तलब किया गया है। जिन प्रेक्षकों को जिले आवंटित किए गए है। उसमें चंदौली में अरुण प्रकाश, कानपुर देहात में विद्याशंकर सिंह, फतेहपुर में राम सिंहासन प्रेम, सिद्धार्थनगर में रविशंकर गुप्ता, बाराबंकी में नीरज शुक्ला, अमेठी में नरेंद्र सिंह, जालौन में भानुप्रताप सिंह, हमीरपुर में अरुण कुमार वर्मा, फीरोजाबाद में मदन चंद्र दुबे तथा कासगंज मे जगदंबा प्रसाद प्रेक्षक होंगे।

इसी क्रम में अरुण कुमार को पीलीभीत, रामसहाय यादव को मुरादाबाद, कृष्णा करुणेश को बलरामपुर, अधर किशोर मिश्रा को मेरठ, महेंद्र प्रसाद को शामली, अजय कुमार अवस्थी को मीरजापुर, गुरुप्रसाद गुप्ता को बलिया, हिमांशु गौतम को औरैया, राजन शुक्ला को देवरिया व विमल कुमार दुबे को उन्नाव में पंचायत चुनाव निगरानी की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि सभी प्रेक्षकों ने अपने तैनाती के जिलों में कार्यभार संभाल लिया है। उन्होंने बताया कि जिन तीन प्रेक्षकों ने निर्धारित समय से अपना दायित्व नहीं संभाला उनके स्थान पर नई तैनाती करते हुए जवाब तलब किया गया है। फीरोजाबाद के अनूप कुमार श्रीवास्तव, कासगंज में बृजनाथ यादव और बलिया में नरेंद्र सिंह पटेल ने दायत्वि नहीं संभाला। इन अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगने व नियमानुसार कार्रवाई के निर्देश दिए गए है।

लखनऊ में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!