UP Panchayat Chunav 2021: यूपी पंचायत चुनाव में पहले चरण का मतदान 15 को, आज 18 जिलों में थम गया प्रचार

UP Panchayat Chunav 2021 प्रदेश के इन 18 जिलों में आज शाम को पांच बजे चुनाव प्रचार थमने के बाद से माहौल कुछ शांत है। बुधवार को पोलिंग पाॢटयां ब्लॉक मुख्यालयों से रवाना होंगी। इसे लेकर तैयारियों को सोमवार को अंतिम रूप दिया गया।

Dharmendra PandeyPublish: Tue, 13 Apr 2021 05:43 PM (IST)Updated: Wed, 14 Apr 2021 08:07 AM (IST)
UP Panchayat Chunav 2021: यूपी पंचायत चुनाव में पहले चरण का मतदान 15 को, आज 18 जिलों में थम गया प्रचार

लखनऊ, जेएनए। उत्तर प्रदेश में गांव की सरकार के गठन के लिए होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में पहले चरण के लिए 15 अप्रैल को वोटिंग होगी। पहले चरण में होने वाले मतदान के लिए आज शाम को पांच बजे 18 जिलों में चुनाव प्रचार का दौर थम गया है। अब प्रत्याशियों के पास सिर्फ एक दिन का समय है कि वह मतदाताओं के पास जाकर व्यक्तिगत रूप से मिलें। इतना ही नहीं बुधवार शाम छह बजे से मतदान वाले स्थलों से आठ किलोमीटर का दायरे में शराब की दुकानें भी बंद कर दी जाएंगी। इसके बाद यह सभी दुकानें गुरुवार शाम छह बजे के बाद खुलेंगी।

प्रदेश के सहारनपुर, गाजियाबाद, रामपुर, बरेली, हाथरस, आगरा, कानपुर नगर, झांसी, महोबा, प्रयागराज, रायबरेली, हरदोई, अयोध्या, श्रावस्ती, संतकबीरनगर, गोरखपुर, जौनपुर तथा भदोही में 15 अप्रैल को प्रात: सात बजे से शाम को छह बजे तक मतदान होगा। जिला पंचायत सदस्य के साथ ही ब्लाक तथा ग्राम पंचायत प्रमुख के पदों के लिए भी मतदान होगा।

प्रदेश के इन 18 जिलों में आज शाम को पांच बजे चुनाव प्रचार थमने के बाद से माहौल कुछ शांत है। बुधवार को पोलिंग पार्टियां ब्लॉक मुख्यालयों से रवाना होंगी। इसे लेकर तैयारियों को सोमवार को अंतिम रूप दिया गया। सभी जिलों में सोमवार को सभी सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेटों को वाहन उपलब्ध हो गए हैं।

प्रदेश में चार चरणों में होने वाले मतदान के लिए दो चरण के मतदान वाले जिलों में नामांकन के साथ ही नाम वापसी का काम होने के बाद प्रत्याशियों को चुनाव चिन्ह भी आवंटित कर दिया गया है। दूसरे चरण में 62 ग्राम प्रधान के साथ तीन जिला पंचायत सदस्य निॢवरोध निर्वाचित हो गए हैं। अनुसार गोंडा, महराजगंज और सुल्तानपुर में एक-एक जिला पंचायत सदस्य निॢवरोध निर्वाचित हुआ है। 62 ग्राम प्रधान निॢवरोध चुन लिए गए हैं। इन सभी पदों पर किसी दूसरे प्रत्याशी ने नामांकन ही नहीं किया था। इसी कारण यह सभी निर्विरोध निर्वाचित हो गए हैं। तीन जिला पंचायत के सदस्य, 560 क्षेत्र पंचायत सदस्य, 62 ग्राम प्रधान और 69560 ग्राम पंचायत सदस्य निॢवरोध निर्वाचित घोषित हुए हैं। सर्वाधिक 14 ग्राम प्रधान गोण्डा जिले में निॢवरोध निर्वाचित हुए हैं। इसी जिले में सर्वाधिक 87 क्षेत्र पंचायत सदस्य भी निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। आजमगढ़ में सबसे ज्यादा 8290 ग्राम पंचायत सदस्य निॢवरोध चुने गए।

आज से तीसरे चरण का नामांकन: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तीसरे चरण के लिए 20 जिलों में नामांकन आज से शुरू हो गया है। 15 अप्रैल तक नामांकन पत्र दाखिल होगा। नामांकन पत्रों की जांच 16-17 अप्रैल को होगी और उम्मीदवार 18 अप्रैल तक नाम वापस ले सकेंगे।

तीसरे चरण में शामली, मेरठ, मुरादाबाद, पीलीभीत, कासगंज, फिरोजाबाद, औरैया, कानपुर देहात, जालौन, हमीरपुर, फतेहपुर, उन्नाव, अमेठी, बाराबंकी, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, देवरिया, चंदौली, मिर्जापुर और बलिया जिले में चुनाव होना है। इसमें 20 जिला पंचायतों के 746 वार्डों, 16801 क्षेत्र पंचायत वार्डों, 14379 ग्राम प्रधान और 180473 ग्राम पंचायत वार्ड सदस्य पदों के लिए चुनाव होंगे। 

Edited By Dharmendra Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept