UP Election 2022: बसपा ने तीसरे चरण के चुनाव के लिए बदले दो प्रत्याशी, शेष छह भी किए घोषित

BSP Candidates List 2022 बसपा ने फिरोजाबाद के लिए पहले बबलू कुमार राठौर को प्रत्याशी बनाया था अब उनकी जगह पर साजिया हसन को उम्मीदवार बनाया है। इसी जिले की सिरसागंज सीट के लिए पहले डा. राघवेंद्र सिंह को प्रत्याशी बनाया गया था अब पंकज मिश्रा को टिकट दिया है।

Umesh TiwariPublish: Fri, 28 Jan 2022 10:14 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 10:18 PM (IST)
UP Election 2022: बसपा ने तीसरे चरण के चुनाव के लिए बदले दो प्रत्याशी, शेष छह भी किए घोषित

लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव के तीसरे चरण की सभी 59 सीटों पर बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने प्रत्याशी घोषित कर दिया है। पार्टी की ओर से 27 जनवरी को 53 प्रत्याशियों की सूची जारी की गई थी, उनमें से दो सीटों पर बदलाव किया गया है, जबकि शेष छह सीटों के भी उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी गई है।

बसपा ने फिरोजाबाद सीट के लिए पहले बबलू कुमार राठौर को प्रत्याशी बनाया था, अब उनकी जगह पर साजिया हसन को उम्मीदवार बनाया गया है। इसी जिले की सिरसागंज सीट के लिए पहले डा. राघवेंद्र सिंह को प्रत्याशी बनाया गया था, अब पंकज मिश्रा को उम्मीदवार बनाया गया है।

बहुजन समाज पार्टी ने फर्रुखाबाद जिले की अमृतपुर सीट के लिए अमित कुमार सिंह उर्फ राहुल कुशवाहा, भोजपुर सीट के लिए आलोक वर्मा, औरैया जिले की बिधूना सीट के लिए गौरव सिंह, कानपुर देहात जिले की भोगनीपुर सीट के लिए जुनैद खान, कानपुर नगर जिले की आर्य नगर सीट के लिए डा. आदित्य जायसवाल और महोबा जिले की चरखारी के लिए विनोद कुमार राजपूत को प्रत्याशी बनाया है।

बसपा ने चौथे चरण में उतारे 30 प्रतिशत मुस्लिम प्रत्याशी : बसपा प्रमुख मायावती ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के बाद राजधानी लखनऊ और आसपास के जिलों में भी मुस्लिम प्रत्याशियों पर बड़ा दांव लगाया है। चौथे चरण के घोषित 53 प्रत्याशियों में 16 यानि 30 प्रतिशत मुस्लिम उम्मीदवार के साथ ही बसपा ने 14 अनुसूचित जाति के प्रत्याशी उतारे हैं। कुल प्रत्याशियों में पांच महिलाएं भी हैं। मायावती ने चौथे चरण की 59 सीटों में से 53 के प्रत्याशियों की सूची शुक्रवार को जारी की। जिन छह सीटों के उम्मीदवार तय न होने के कारण अभी घोषित नहीं किए जा सके उनमें पीलीभीत, बरखेड़ा, पूरनपुर, सेवता, सिधौली व हरदोई विधानसभा क्षेत्र है। शुक्रवार को घोषित प्रत्याशियों में से कुछ को बदलने की संभावना बनी हुई है। सपा-रालोद गठबंधन, कांग्रेस और भाजपा प्रत्याशियों के जातीय समीकरण को देखते हुए बसपा प्रमुख उम्मीदवार बदले जा सकते हैं।

Edited By Umesh Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept