बीएसपी के स्टार प्रचारकों में मायावती के भाई आनंद कुमार और सतीश चंद्र मिश्रा, जारी की गई 18 नेताओं की लिस्ट

UP Vidhan Sabha Chunav 2022 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बहुजन समाज पार्टी ने 18 स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। इस लिस्ट में मायावती आनंद कुमार सतीश चंद्र मिश्रा मुनकाद अली समसुद्दीन राईन सतपाल पीपला गोरे लाल जाटव आदि का नाम शामिल है।

Umesh TiwariPublish: Sun, 23 Jan 2022 01:02 PM (IST)Updated: Sun, 23 Jan 2022 01:55 PM (IST)
बीएसपी के स्टार प्रचारकों में मायावती के भाई आनंद कुमार और सतीश चंद्र मिश्रा, जारी की गई 18 नेताओं की लिस्ट

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) ने 18 स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। स्टार प्रचारकों की सूची में बीएसपी चीफ मायावती के भाई आनंद कुमार को स्टार प्रचारक बनाया गया। पहले चरण के स्टार प्रचारक की सूची में मायावती, आनंद कुमार, सतीश चंद्र मिश्रा, मुनकाद अली, समसुद्दीन राईन, सतपाल पीपला, गोरे लाल जाटव, राजकुमार गौतम, सूरज सिंह जाटव, आशीर्वाद आर्य, नकुल दुबे, प्रदीप जाटव, प्रताप सिंह बघेल, दिनेश कुमार काजीपुर, डा. कमल सिंह, राज करतार सिंह नागर, चांद सिंह कश्यप, सत्य प्रकाश का नाम शामिल है।

उत्तर प्रदेश के साथ ही उत्तराखंड और पंजाब में चुनाव लड़ रही बहुजन समाज पार्टी को विश्वास है कि पंजाब में शिरोमणि अकाली दल के साथ गठबंधन तो उत्तराखंड में अकेले दम पर पार्टी जीत हासिल करेगी। वहीं, उत्तरप्रदेश को लेकर पार्टी प्रमुख मायावती आश्वस्त हैं कि बसपा यहां 2007 का परिणाम दोहराते हुए पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी। इसके लिए उन्होंने कार्यकर्ताओं को नारा दिया है- 'हर पोलिंग बूथ को जिताना है, बसपा को सत्ता मे लाना है।'

पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा है कि उन्होंने अपने कार्यकर्ताओं को संदेश दिया कि इस बार चुनाव कोरोना प्रकोप के दौरान हो रहे हैं। कार्यकर्ता चुनाव आयोग द्वारा जारी कोरोना नियमों का पालन करते हुए अपनी पार्टी के सभी चरणों के उम्मीदवारों को जरूर जिताएं, तभी फिर खासकर यहां यूपी में बसपा की सर्वजन हिताय व सर्वजन सुखाय की सरकार बन सकती है। तभी फिर यहां बाबा साहेब डा. भीमराव आम्बेडकर और कांशीराम का भी सपना सही साकार हो सकता है। हर बूथ को जिताने का नारा देते हुए उन्होंने कार्यकर्ताओं से उम्मीद जताई कि वह पिछले दिनों पार्टी के प्रदेश मुख्यालय के पदाधिकारियों को दिए गए दिशा-निर्देशों पर पूरी ईमानदारी व निष्ठा से अमल करेंगे, ताकि वर्ष 2007 की तरह फिर से यूपी में बसपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बन सके।

यह भी पढ़ें : प्रियंका के यू-टर्न पर मायावती बोलीं, कांग्रेस वोट काटने वाली पार्टी; लोग अपना वोट खराब न करें

Edited By Umesh Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept