मुलायम सिंह यादव के साढ़ू एवं पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता भाजपा में शामिल, बोले- नेताजी तो अखिलेश के बंधक

UP Vidhansabha Chunav 2022 समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (नेताजी) के साढ़ू पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता भाजपा में शामिल हो गए। लखनऊ में उनके साथ कांग्रेस की पोस्टर गर्ल डा. प्रियंका मौर्या ने भी भाजपा की सदस्यता ली।

Dharmendra PandeyPublish: Thu, 20 Jan 2022 11:13 AM (IST)Updated: Thu, 20 Jan 2022 02:51 PM (IST)
मुलायम सिंह यादव के साढ़ू एवं पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता भाजपा में शामिल, बोले- नेताजी तो अखिलेश के बंधक

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव में पहले चरण का मतदान शुरू होने से पहले समाजवादी पार्टी को परिवार से ही दूसरा झटका मिला है। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (नेताजी) के साढ़ू पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता भाजपा में शामिल हो गए। लखनऊ में उनके साथ कांग्रेस की पोस्टर गर्ल डा. प्रियंका मौर्या ने भी भाजपा की सदस्यता ली।

समाजवादी पार्टी के औरैया के बिधूना से 2012 में विधायक रहे प्रमोद कुमार गुप्ता के साथ कांग्रेस की पोस्टर गर्ल डा. प्रियंका मौर्या, अयोध्या की लोक गायिका वंदना मिश्रा तथा कानपुर की गोविन्द नगर सीट से बसपा के प्रत्याशी रहे सुनील शुक्ला ने भी भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली। भाजपा ज्वाइनिंग कमेटी के प्रमुख पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा लक्ष्मीकांत बाजपेई ने इन सभी को पार्टी सदस्यता दिलाई।

समाजवादी पार्टी में तो गुंडों का ही बोलबाला : प्रमोद गुप्ता

भाजपा में शामिल होने के बाद औैरैया के बिधूना से विधायक रहे प्रमोद कुमार गुप्ता ने अखिलेश यादव पर बेहद गंभीर आरोप लगाया। मुलायम सिंह के साढू प्रमोद गुप्ता ने कहा कि अखिलेश यादव ने तो नेताजी को बंधक बना रखा है। समाजवादी पार्टी में तो गुंडों का ही बोलबाला है। प्रमोद गुप्ता बोले कि अखिलेश यादव चाटुकारों से घिर गए हैं। मुलायम सिंह बुजुर्ग हो गए हैं। उनकी बात अब न अखिलेश सुनते हैं और न ही पार्टी में कोई सुनता है। अखिलेश ने मुलायम को बहुत रुलाया है।

आज उनकी यह हालत अखिलेश की वजह से ही है। प्रमोद गुप्ता का दावा है कि सपा के 20 विधायक उनके साथ आने के लिए तैयार हैं, यदि भाजपा अनुमति दे तो अखिलेश की नाक के बाल कहे जाने वाले विधायक रघुराज शाक्य, शिवकुमार बेरिया से लेकर कई विधायक अगले दो घंटे में भाजपा में होंगे।इससे पहले मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने बुधवार को नई दिल्ली में भाजपा की सदस्यता ली थी।

कांग्रेस नेता टिकट पहले ही किसी और को बेच चुके थे: मौर्या

भाजपा में शामिल हुईं कांग्रेस की पोस्टर गर्ल प्रियंका मौर्या ने कहा कि मुझे कहा गया कि सरोजिनी नगर क्षेत्र में काम कीजिए, जबकि कांग्रेस नेता टिकट पहले ही किसी और को बेच चुके थे। मुझे लड़की हूं, लड़ सकती हूं अभियान से जोड़ा। यह प्रियंका गांधी का खोखला नारा है, क्योंकि मेरी तो आवाज तक सुनी, जबकि मैं लड़ती रही। ऐसी विचारधारा के साथ मैं काम नहीं कर सकती, इसलिए भाजपा में आई हूं। भाजपा में मैंने टिकट की कोई शर्त नहीं रखी।

प्रियंका मौर्या ने कहा कि कांग्रेस ने वोटर को आकर्षित करने के लिए उनके चेहरे का इस्तेमाल पोस्टर पर किया। वह पोस्टर से हटाना होगा। प्रियंका मौर्या ने कहा किसमाज सेवा के लिए मैं कांग्रेस से जुड़ी थी, मुझे कहा गया आप मेहनत करें फल ज़रुर मिलेगा। एक स्लोगन मिला लड़की हूं लड़ सकती हूं। मैं आज कहती हूं लड़की हूं लड़ने का हुनर रखती हूं, मेहनत भी की,परिणाम भी अच्छे आए पर मुझे लड़ने का मौका नहीं मिला।

भाजपा ने लगाई समाजवादी पार्टी में बड़ी सेंध

भारतीय जनता पार्टी ने समाजवादी पार्टी के संस्थापक परिवार में बड़ी सेंध लगा दी है। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में पहले चरण के मतदान से पहले भारतीय जनता पार्टी ने मुलायम सिंह यादव के ही परिवार में सेंध लगा दी है। औरैया के बिधूना से समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक प्रमोद कुमार गुप्ता उर्फ एलएस प्रमोद कुमार गुप्ता लम्बे समय से भाजपा में आने के प्रयास में थे। इनके साथ अन्य लोग भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। प्रमोद कुमार गुप्ता समाजवादी पार्टी के संस्थापक पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के साढ़ू और अपर्णा यादव के मौसा भी हैं। प्रमोद कुमार गुप्ता सपा संरक्षक मुलायम सिंह की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता (अब साधना यादव) के बहनोई हैं। बिधूना से भाजपा विधायक विनय शाक्य ने पार्टी से इस्तीफा देकर सपा की सदस्यता ले ली है।

बुधवार को नई दिल्ली में मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव के भाजपा का दामन थामने के बाद गुरुवार को मुलायम सिंह के साढ़ू और पूर्व विधायक प्रमोद गुप्ता लखनऊ में समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के साढू प्रमोद गुप्ता एक बार टिकट न मिलने पर निर्दलीय नगर पंचायत का चुनाव लड़े और जीते। इसके बाद 2012 में सपा ने प्रमोद गुप्ता एलएस को बिधूना विधानसभा का टिकट दिया। प्रमोद गुप्ता उर्फ एलएस चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे। वह मंत्री बनने के लिए आतुर थे, लेकिन अखिलेश यादव ने अपनी सरकार में उनको कोई बड़ा ओहदा भी नहीं दिया।

Edited By Dharmendra Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept