This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

Lucknow Metro News: लखनऊ मेट्रो की सर्विस पर यात्री जता रहे हैं विश्वास, स्टेशनों पर बढ़ रही संख्या

Lucknow Metro News यात्री बढ़ाने वाले स्टेशनों पर गतिविधियां नहीं बढ़ रही। आठ हजार से अधिक यात्रियों ने किया मेट्रो में सफर।

Divyansh RastogiWed, 09 Sep 2020 07:54 AM (IST)
Lucknow Metro News: लखनऊ मेट्रो की सर्विस पर यात्री जता रहे हैं विश्वास, स्टेशनों पर बढ़ रही संख्या

लखनऊ, जेएनएन। Lucknow Metro News: नार्थ साउथ कॉरिडोर के 23 किमी. रूट पर जो राइडर शिप बढ़ाने वाले स्टेशन थे, वहां यात्रियों की  संख्या बहुत ज्यादा नहीं बढ़ रही है। इसके पीछे वहां की गतिविधियों का पूरी तरह से संचालन न होना है। इसलिए यात्रियों की संख्या में जो बूम आना था, वह नहीं आ रहा है। इसके बाद भी लखनऊ मेट्रो की बेहतर सर्विस को देखते  हुए हर दिन यात्रियों की संख्या बढ़ रही है। आठ सितंबर को आठ हजार से अधिक यात्रियों ने मेट्रो पर विश्वास जताते  हुए सफर किया, यह संख्या सात सितंबर ऐ एक हजार ज्यादा है। 

यह वहीं संख्या है जब मेट्रो वर्ष 2017 में ट्रांसपोर्ट नगर से  चारबाग के बीच चलती थी। उसके दो वर्ष बाद मेट्रो एयरपोर्ट से मुंशी पुलिया के बीच चलते ही यात्रियों  की संख्या में आठ गुना  से अधिक यात्री मेट्रो में बढ़े थे। वर्तमान में कोचिंग सेंटर,  कॉलेज, ट्रेनों का संचालन  और हवाई यात्रियों की  संख्या न के बराबर  होने से यात्रियों की संख्या नहीं बढ़ रही है। 

उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड के प्रबंध निदेशक कुमार केशव ने बताया कि मेट्रो का उद्देश्य है कि यात्रियों को बेहतर सर्विस देना, वह मेट्रो दे रहा है। मेट्रो में सफर करने वाले यात्रियों में यह विश्वास है कि मेट्रो शहरी परिवहन संसाधानों में सबसे सुरक्षित है। इसलिए हर रोज यात्रियों की संख्या बढ़ रही है। उन्होंने बताया कि राइडरशिप बढ़ेगी, थोड़ा सा समय लगेगा। वह स्वीकारते हैं कि विश्वविद्यालय, आइआइटी, चारबाग, आलमबाग बस अड्डा, एयरपोर्ट जाने वाले हजारों यात्रियों का आवागमन कोविड 19 के कारण बंद है या फीर सीमित। बता दें चारबाग व लखनऊ जंक्शन  से प्रतिदिन ढाई सौ  से अधिक मेल व  एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन होता है। वर्तमान में इनकी संख्या एक दर्जन भी नहीं है। ऐसे में यात्री जो शहर के  अलग अलग  गंतव्यों  से आते थे, वह नहीं आ रहे हैं। वहीं बस अड्डों व एयरपोर्ट पर यात्रियों की संख्या घटी थी, जो अब धीमे धीमे बढ़ रही है। 

इन स्टेशनों पर यात्रियों की होती थी भीड़

  • चौधरी चरण सिंह एयरपोर्ट
  • कृष्णा नगर मेट्रो स्टेशन 
  • आलमबाग बस अड्डा स्टेशन 
  • चारबाग मेट्रो स्टेशन
  • सचिवालय मेट्रो स्टेशन 
  • हजरतगंज मेट्रो स्टेशन 
  • विश्वविद्यालय मेट्रो स्टेशन 
  • भूतनाथ मेट्रो स्टेशन 
  • मुंशी पुलिया मेट्रो स्टेशन 

मेट्रो स्टेशन पर उपलब्ध सुविधाएं 

टिकट वेडिंग मशीन से गो स्मार्ट कार्ड नेट बैंकिग के जरिए सुरक्षित तरीके से कर सकते हैँ रिचार्ज 

आटोमेटिक फेयर गेट पर कार्ड को बिना टच करे निकल सकते हैं। 

मेट्रो स्टेशन में प्रवेश करने, ट्रेन में चढ़ने और बाहर निकलने पर कोई चीज संपर्क में नहीं आती। 

सैनिटाइज सीट पर मेट्रो ने कर रखी बैठने की व्यवस्था। .

गो स्मार्ट कार्ड से भी टोकन ले सकते हैं, समय, धन दोनों की बचत, सह यात्री के लिए। 

गो स्मार्ट कार्ड के साथ मेट्रो स्टेशन पर मुफ्त वाई फाई की सुविधा भी उपलब्ध।   

सभी मेट्रो स्टेशनों पर बिक्री के लिए गो स्मार्ट कार्ड उपलब्ध, आसानी से कही ले जा सकते हैं। 

विश्वविद्यालय व कोचिंग बंद होने से मेट्रो पर असर 

यूपीएमआरसी के संचालन से जुड़े अफसरों ने बताया कि वर्तमान में स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर के साथ ही  विश्वविद्यालय  में  छात्रों का जो हुजूम सामान्य दिनों में होता था, उसका दस फीसद नहीं रह गया। क्योंकि ऑनलाइन पढ़ाई हो रही है। इसका असर  मेट्रो पर है। आइआइटी, करामत, विश्वविद्यालय, हजरतगंज स्थित कई कोचिंग सेंटर में हजारों की संख्या में छात्र  सफर करते थे। मेट्रो को इंतजार है कि कोविड से मुक्त होते ही अच्छे दिन फिर लौटेंगे। 

हवाई उड़ानों में यात्रियों की संख्या भी कम 

एयरपोर्ट से निकलने वाला अधिकांश यात्री मेट्रो का इस्तेमाल लॉक डाउन से पहले कर रहे थे। अब कोविड 19 के कारण विमानों में यात्रियों की संख्या सीमित होने लगी है। इसका असर दो दिन से चल रही लखनऊ मेट्रो पर भी दिख रहा है। हालांकि एयरपोर्ट, इंडियन ऑयल, मौसम विभाग, एयरलाइंस पर कार्यरत कर्मचारियों की मेट्रों पहली पंसद बनी हुई है। सीमित उड़ाने होने से हवाई यात्री भी अब मेट्रो से सफर करना शुरू कर दिया है। मेट्रो प्रशासन मेट्रो चलने का प्रचार प्रसार भी  कर रहा है, जिससे  यात्री अधिक से अधिक मेट्रो में चले। 

यूपीएमआरसी एमडी ने की यात्रियों से अपील 

उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन लिमिटेड यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक कुमार केशव सुबह चौधरी चरण सिंह मेट्रो स्टेशन पहुंच गए। यहां से फिर एमडी ने कई स्टेशनों का निरीक्षण किया। मेट्रो में सफर के दौरान कुमार केशव ने यात्रियों को गो स्मार्ट कार्ड के फायदे बताए। व्यक्तिगत यात्रियों से मिलकर  अपना परिचय दिया  और बोले गो स्मार्ट क्यों फायदेमंद है और उसे क्यों लेकर चलना चाहिए? इसके बारे बिंदुवार समझाया। कैशलेस को बढ़ावा देने के साथ ही आने वाले समय में गो स्मार्ट के फायदे भी गिनाए। एमडी ने कहा कि मेट्रो ने बिजनेस कांटिनिटी प्लान को विशेष रूप से डिजाइन और तैयार किया है। इस योजना को ई प्लेटफार्म से आसानी से एक्सेस और डाउनलोड किया जा सकता है। 

Edited By: Divyansh Rastogi

लखनऊ में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
 
Jagran Play

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

  • game banner
  • game banner
  • game banner
  • game banner