उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित 14803 नए केस मिले, अब पाजिटिविटी रेट 7.10 प्रतिशत

यूपी में अब सक्रिय केस 1.01 लाख हैं। इसमें से 98897 रोगी होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर अपना इलाज करा रहे हैं। वहीं 2220 रोगी अस्पतालों में भर्ती हैं। वहीं बीते 24 घंटे में 20191 मरीज स्वस्थ हुए हैं। 12 और मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है।

Umesh TiwariPublish: Tue, 18 Jan 2022 08:10 PM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 07:16 AM (IST)
उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित 14803 नए केस मिले, अब पाजिटिविटी रेट 7.10 प्रतिशत

लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में बीते 24 घंटे में 2.08 लाख लोगों की कोरोना जांच की गई तो उसमें से 14803 लोग संक्रमित पाए गए। सबसे ज्यादा 2173 नए रोगी लखनऊ में मिले हैं। गौतम बुद्ध नगर में 1262 नए रोगी मिले हैं। अब पाजिटिविटी रेट 7.10 प्रतिशत है।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि अब सक्रिय केस 1.01 लाख हैं। इसमें से 98897 रोगी होम आइसोलेशन यानि घर पर रहकर अपना इलाज करा रहे हैं। वहीं 2220 रोगी अस्पतालों में भर्ती हैं। वहीं, बीते 24 घंटे में 20191 मरीज स्वस्थ हुए हैं। 12 और मरीजों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई है। अब तक कुल 18.64 लाख लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं और इसमें से 17.40 लाख रोगी ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट 93.3 प्रतिशत है।

इन जिलों में सबसे ज्यादा रोगी

  • जिला : कुल मरीज
  • लखनऊ : 16823
  • गौतम बुद्ध नगर : 10430
  • गाजियाबाद : 8935
  • मेरठ : 7132
  • वाराणसी : 4312

जनवरी में कब कितने सक्रिय केस

  • तारीख : सक्रिय केस
  • 01 जनवरी : 1211
  • 05 जनवरी : 5158
  • 10 जनवरी : 33946
  • 15 जनवरी : 95148
  • 18 जनवरी : 101114

कोरोना मरीजों को चिन्हित करने 24 से घर-घर जाएगी टीम : उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए 24 जनवरी से घर-घर टीमें भेजकर मरीजों को चिन्हित करने का काम किया जाएगा। करीब 80 हजार निगरानी कमेटियों की मदद से स्वास्थ्य विभाग की टीम मरीजों की पहचान करेगी। कोरोना के लक्षण वाले लोगों को चिन्हित करने के बाद उन्हें मेडिकल किट दी जाएगी। यह अभियान 29 जनवरी तक चलाया जाएगा। महानिदेशक, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य डा. वेदब्रत सिंह ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए चलाए जा रहे अभियान में दूसरी डोज लगवाने से छूट गए लोगों को भी चिन्हित किया जाएगा। ऐसे लोगों को सभी जिलों में सीएमओ को निर्देश दिए गए हैं कि वह क्षेत्रवार टीमों का गठन कर लें, ताकि अभियान को बेहतर ढंग से चलाया जा सके।

Edited By Umesh Tiwari

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept