CM योगी आदित्यनाथ पर अभद्र टिप्पणी करने वाला आरोपित नोएडा से अरेस्ट

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर अभद्र टिप्पणी वाले आरोपित को नोएडा से गिरफ्तार कर लिया गया है।

Divyansh RastogiPublish: Sat, 08 Jun 2019 12:54 PM (IST)Updated: Sun, 09 Jun 2019 09:18 AM (IST)
CM योगी आदित्यनाथ पर अभद्र टिप्पणी करने वाला आरोपित नोएडा से अरेस्ट

लखनऊ, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर अभद्र टिप्पणी करने का मामला सामने आया है। ट्विटर और फेसबुक पर पोस्ट करने वाले युवक प्रशांत जगदीश कन्नौजिया को उत्तर प्रदेश पुलिस ने दिल्ली के विनोद नगर से गिरफ्तार कर लिया है। उसे लखनऊ ले लाया गया है। 

ये है पूरा मामला 
कानपुर निवासी एक युवती गुरुवार को पांच कालिदास मार्ग पर मुख्यमंत्री से मिलने पांच कालिदास मार्ग स्थित उनके आवास पर पहुंची थी। युवती ने सीएम पर गंभीर आरोप लगाए थे। इसी प्रकरण में प्रशांत ने ट्विटर पर युवती का वीडियो पोस्ट कर सीएम पर अशोभनीय टिप्पणी की। हजरतगंज के दारोगा विकास कुमार ने मामले पर मुकदमा दर्ज कराने के लिए तहरीर दी। तहरीर में लिखा कि मुख्यमंत्री के विरुद्ध आपत्तिजनक टिप्पणी कर उनकी छवि धूमिल करने का प्रयास किया गया है। इसी बीच उच्चाधिकारियों के आदेश पर साइबर क्राइम सेल की टीम ने छापेमारी कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

प्रतापगढ़ का रहने वाला है आरोपित 
आरोपित प्रशांत मूलरूप से प्रतापगढ़ के गांव रानीगंज का रहने वाला है और वर्तमान में 27 मंडावली फाजलपुर थाना दक्षिण विनोद नगर दिल्ली में रहता था। उसने भारतीय जनसंचार संस्थान (आइआइएमसी) से पत्रकारिता का कोर्स किया है। मुंबई से करियर की शुरुआत की और एक वेबसाइट में भी नौकरी की। उसके माता-पिता फिलहाल मुंबई में रहते हैं।

मामले को दबाने में जुटे रहे अफसर
मामले को पुलिस अधिकारी दबाने में जुटे रहे। इस संबंध में एएसपी पूर्वी ने आरोपित को पकड़ने के लिए किसी भी दबिश या गिरफ्तारी से इन्कार किया है। वहीं सीओ हजरतगंज अभय कुमार मिश्र के अवकाश पर होने के कारण लिंक अधिकारी सीओ कैंट से बात की गई तो उन्होंने प्रकरण की जानकारी से मना कर दिया। इंस्पेक्टर हजरतगंज राधा रमण सिंह भी चुप्पी साधे रहे। उन्होंने कहा कि उच्चाधिकारियों ने इस संबंध में कुछ भी बोलने से मना किया है। साइबर क्राइम सेल की टीम मामले की जांच कर रही है।

इस मामले को लेकर किया था पोस्ट 
दरअसल, बीती 6 जून को कानपुर नगर के नवाबगंज निवासी एक महिला मुख्यमंत्री के सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग पर उनसे मिलने की जिद पर अड़ गई थी। वो खुद को उनकी प्रेमिका बता रही थी और उसका दावा था कि योगी आदित्यनाथ पिछले एक वर्ष से ऑनलाइन सुबह से लेकर रात तक उसके साथ रहते रहे। यह महिला तलाकशुदा है और वह 100 रुपये के स्टांप पर प्रेम पत्र लिखकर पहुंची थी। महिला वह योगी को सीधे सौंपना चाहती थी  और इस प्रेम पत्र में उसने बहुत कुछ लिखा था।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By Divyansh Rastogi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept