COVID-19 in UP: उत्तर प्रदेश में एक लाख से नीचे आए एक्टिव केस, 24 घंटे में मिले 11583 नए संक्रमित

Corona Virus News Update In UP उत्तर प्रदेश शासन ने मंगलवार को प्रदेश में कोरोना वायरस के आंकड़े जारी किए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के 86563 एक्टिव केस हैं। प्रदेश में सोमवार को एक लाख 99290 सैंपल की टेस्टिंग में 11583 नए संक्रमित मिले हैं।

Dharmendra PandeyPublish: Tue, 25 Jan 2022 01:58 PM (IST)Updated: Tue, 25 Jan 2022 02:02 PM (IST)
COVID-19 in UP: उत्तर प्रदेश में एक लाख से नीचे आए एक्टिव केस, 24 घंटे में मिले 11583 नए संक्रमित

लखनऊ, जेएनएन। प्रदेश में विधानसभा चुनाव में पहले चरण के मतदान से पहले कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ते प्रसार में कमी आई है। प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की तीसरी लहर के एक्टिव केस एक लाख के नीचे आ गए हैं। प्रदेश में एक्टिव केस अब 86,563 हैं जो कि कभी एक लाख के ऊपर थे।

उत्तर प्रदेश शासन ने मंगलवार को प्रदेश में कोरोना वायरस के आंकड़े जारी किए हैं। अब प्रदेश में कोरोना के 86563 एक्टिव केस हैं। प्रदेश में सोमवार को एक लाख 99,290 सैंपल की टेस्टिंग में 11,583 नए संक्रमित मिले हैं। इस दौरान 18,875 इसके संक्रमण से उबरे भी हैं। अब प्रदेश में कोरोना का पॉजिटिविटी रेट दो प्रतिशत हो गया है। इसके साथ ही रिकवरी रेट 94.40 प्रतिशत हो गया है।

प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर एग्रेसिव ट्रेसिंग और टेस्टिंग के साथ त्वरित ट्रीटमेंट और तेज कोविड का टीकाकरण से इस संक्रमण का प्रसार धीरे-धीरे नियंत्रण में आ रहा है। प्रदेश में कुल एक्टिव केस की 86,563 हैं, इनमें भी 84,141 घर पर ही हैं। तीसरी लहर का असर पहले की दो लहर से कम है। इसी कारण लोगों को अस्पताल में जाने की जरूरत नहीं पड़ रही है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ताजा स्थिति की समीक्षा करते हुए कहा कि तीसरी लहर में संक्रमण दिनों-दिन कम होता जा रहा है। एक्टिव केस में गिरावट है तो नए केस में भी कमी हो रही है। बहुत कम संख्या में लोगों को अस्पताल की जरूरत पड़ रही है। यह संक्रमण वायरल फीवर की तरह है। अतः इससे डरने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन सभी एहतियात अवश्य बरते जाएं। मुख्यमंत्री ने सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से अस्पताल में उपचाराधीन कोविड पॉजिटिव लोगों के परिजनों से नियमित अंतराल पर संवाद जारी रखने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में स्वास्थ्य लाभ ले रहे लोगों से संवाद कर उन्हें मेडिकल परामर्श, दवाएं आदि मुहैया कराई जाए।

Edited By Dharmendra Pandey

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम