चुनाव की सरगर्मी बढ़ने के साथ चेकिंग अभियान तेज, दो नंबर का कारोबार करने वालों की बढ़ीं मुश्किलें

चुनाव की सरगर्मियां बढ़ने के साथ ही पुलिस व आयकर विभाग समेत अन्य एजेंसियों ने काले धन पर नकेल कसनी शुरू कर दी है। चेग बढ़ने के साथ ही अब सोना-चांदी का दो नंबर का कारोबार करने वाले भी पुलिस के हत्थे चढ़ना शुरू हो गए हैं।

Vikas MishraPublish: Fri, 21 Jan 2022 09:36 AM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 04:07 PM (IST)
चुनाव की सरगर्मी बढ़ने के साथ चेकिंग अभियान तेज, दो नंबर का कारोबार करने वालों की बढ़ीं मुश्किलें

लखनऊ, राज्य ब्यूरो। चुनाव की सरगर्मियां बढ़ने के साथ ही पुलिस व आयकर विभाग समेत अन्य एजेंसियों ने काले धन पर नकेल कसनी शुरू कर दी है। चेग बढ़ने के साथ ही अब सोना-चांदी का दो नंबर का कारोबार करने वाले भी पुलिस के हत्थे चढ़ना शुरू हो गए हैं। पुलिस ने अब तक चेकिंग के दौरान 42 किलो से अधिक सोना व चांदी बरामद किया है। 

विधानसभा चुनाव के दौरान उडऩ दस्तों की सक्रियता बढऩे से काले धन की बरामदगी भी बढ़ रही है। चुनाव में अब तक 8.76 करोड़ रुपये अधिक रकम पकड़ी जा चुकी है। 2017 के विधानसभा चुनाव के दौरान पुलिस ने 115.12 करोड़ रुपये जब्त किये थे। जबकि 76.5 किलो सोना व 383 किलो चांदी भी बरामद की गई थी। 2019 के लोकसभा के चुनाव के दौरान 37.91 करोड़ रुपये बरामद किये गये थे। इसके अलावा 123.92 किलो सोना व 425 किलो से अधिक चांदी बरामद की गई थी।

इन आंकड़ों से साफ है कि चुनाव के दौरान काले धन का लेनदेन बढ़ जाता है। साथ ही चेङ्क्षकग अधिक होने की वजह से सोने-चांदी का दो नंबर का कारोबार करने वाले भी अधिक संख्या में पुलिस व अन्य जांच एजेंसियों के हत्थे चढ़ते हैं। इस बार भी चुनाव का पहले चरण में नामांकन प्रक्रिया शुरू होने के साथ ही उडऩ दस्तों ने अपनी सक्रियता बढ़ा दी है। कई प्रत्याशी अपने-अपने क्षेत्र में मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए काले धन का उपयोग धड़ल्ले से करते हैं।

Edited By Vikas Mishra

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept