एसएसबी जवानों ने फ्लैग मार्च कर कराया सुरक्षा का एहसास

कुशीनगर के सेवरही नगर तथा आसपास के गांवों में पहुंचे सुरक्षा बलों ने कहा कि बख्शे नहीं जाएंगे कानून व्यवस्था में खलल डालने वाले मतदाता निर्भीक होकर मतदान करें संदिग्धों पर नजर रखी जा रही है।

JagranPublish: Mon, 17 Jan 2022 12:21 AM (IST)Updated: Mon, 17 Jan 2022 12:21 AM (IST)
एसएसबी जवानों ने फ्लैग मार्च कर कराया सुरक्षा का एहसास

कुशीनगर : विधानसभा चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न कराने को लेकर एसएसबी जवान व सेवरही पुलिस ने रविवार को नगर व आसपास के गांवों में फ्लैग मार्च किया। जवानों ने लोगों सुरक्षा का एहसास कराया।

एसएचओ आशुतोष कुमार सिंह के नेतृत्व में थाना परिसर से फ्लैग मार्च नगर से होते हुए बनरहां मोड़, सेवरही, पिपराघाट पहुंचा। सुरक्षा बल के जवानों ने नागरिकों में मजबूत सुरक्षा व्यवस्था का अहसास कराया। एसएचओ ने कहा कि अराजकतत्वों पर नजर रखी जा रही है। ऐसे लोगों की सूची तैयार कर उनकी हर गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। शांतिपूर्ण माहौल में चुनाव कराने को लेकर पूरी तैयारी है। कानून व्यवस्था में खलल डालने वालों को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। अराजक तत्वों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्रवाई चल रही है। बीते चुनाव में बाधा पहुंचाने वालों पर नजर रखी जा रही है। वरिष्ठ उप निरीक्षक राजेश कुमार मिश्र, सभाजीत सिंह आदि मौजूद रहे।

खलल डालने वालों पर लगेगा गैंगस्टर

खड्डा पुलिस व एसएसबी जवानों ने नगर में पैदल मार्च कर नागरिकों में सुरक्षा का एहसास कराया। अफसरों ने कहा कि चुनाव को सकुशल संपन्न कराना प्राथमिकता है। व्यवस्था में बाधा पहुंचाने वालों के विरुद्ध गैंगस्टर के तहत कार्रवाई होगी।

थाना परिसर से निकला मार्च नगर की प्रमुख सड़कों से होते हुए खड्डा, बरवा रतनपुर, भुजौली, कोहरगड्डी व पुन: थाना परिसर पहुंच संपन्न हुआ। इससे पूर्व नागरिकों से मिल पुलिस अफसरों ने कहा कि बिहार बार्डर से लगने वाले इस क्षेत्र में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। व्यवधान उत्पन्न करने वाले बख्शे नहीं जाएंगे। दारोगा पीके सिंह, रामाशंकर सिंह यादव, उमेश सिंह, राजेश गौतम आदि शामिल रहे।

चौकी इंचार्ज व बीट पुलिस अधिकारी की तय हुई जिम्मेदारी

विधानसभा चुनाव को लेकर चौकी इंचार्ज व बीट पुलिस अधिकारी की जिम्मेदारी तय कर सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है। पुलिस अफसरों ने दो टूक कहा है कि इसमें लापरवाही पर जवाबदेही होगी।

पुलिस अधीक्षक सचिन्द्र पटेल ने निर्देश दिया है कि जिन असलहाधारकों ने अपने असलहे अब तक जमा न किए हों उनके असलहे प्राथमिकता के आधार पर जमा करा लिए जाएं। चौकी इंचार्ज नियमित रूप से अपनी चौकी पर सुबह-शाम पुलिसकर्मियों संग बैठक कर क्षेत्र की गतिविधियों की चर्चा करेंगे और इसकी रिपोर्ट देंगे। अवैध शराब के धंधे पर हर हाल में रोक लगनी चाहिए। हल्का दारोगा व बीट पुलिस अधिकारी प्रतिदिन अपने-अपने हल्के का भ्रमण कर इस पर नजर रखेंगे। जहां से अवैध शराब बनने तथा बिक्री होने की पुष्टि होगी, वहां के दारोगा व कांस्टेबल इसके जिम्मेदार माने जाएंगें। इसी तरह क्षेत्र के अराजकतत्वों की सूची अपडेट कर उनकी निगरानी की जाए। इनके संपर्क में कौन-कौन लोग हैं उन पर भी नजर रखी जाए। इसमें लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। शांतिपूर्ण चुनाव कराना सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसे लेकर पुलिसकर्मी सजगता बरतें, ताकि निर्धारित उद्देश्यों की पूर्ति में किसी तरह की कोई बाधा उत्पन्न न हो।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम