साइफन में रिसाव होने से फसलें डूबीं

दुदही विकास खंड के गांव कोरया निवासी ज्ञानी प्रजापति की दो भैंसों की मौत अचानक हो जाने से पशुपालक चितित हैं। पीड़ित ने बताया कि बुधवार की शाम भैंसों को घर में बांध दिए। रात में रोटी खिलाने गए तो भैंसें नहीं खाईं। गुरुवार की भोर में लगभग चार बजे दोनों भैंसों ने सर पटक-पटक कर दम तोड़ दिया।

JagranPublish: Fri, 28 Jan 2022 10:23 PM (IST)Updated: Fri, 28 Jan 2022 10:23 PM (IST)
साइफन में रिसाव होने से फसलें डूबीं

कुशीनगर: हरपुर रजवाहा के साइफन में रिसाव होने से कई एकड़ गन्ना, तिलहन व गेहूं की फसलें डूब गई हैं। किसानों का कहना है कि विभाग के अधिकारियों को सूचना देने के बाद भी अभी तक साइफन की मरम्मत नहीं कराई गई है।

विशुनपुरा विकास खंड के डेगरहा गांव के समीप हरपुर रजवाहा के साइफन में चार दिनों से रिसाव हो रहा है। इससे रजवाहा के बगल में स्थित मनोज राय, ब्रह्मा राय, अनिल राय, गिरजाशंकर, सावल दास, सीताराम, मंसूर, निजामुद्दीन, वशिष्ठ, राजेश, अवधेश, भरत, अशर्फी, रमेश आदि किसानों की फसलें पानी में डूब गई हैं। उनका कहना है कि शीघ्र साइफन की मरम्मत नहीं कराई गई तो पानी का रिसाव नहीं रुकेगा और फसलें बर्बाद हो जाएंगी। विभाग के अधिकारियों को सूचना दिए जाने के बाद भी कोई सुनने को तैयार नहीं है।

पशुओं की मौत से पशुपालक चितित दुदही विकास खंड के गांव कोरया निवासी ज्ञानी प्रजापति की दो भैंसों की मौत अचानक हो जाने से पशुपालक चितित हैं। पीड़ित ने बताया कि बुधवार की शाम भैंसों को घर में बांध दिए। रात में रोटी खिलाने गए तो भैंसें नहीं खाईं। गुरुवार की भोर में लगभग चार बजे दोनों भैंसों ने सर पटक-पटक कर दम तोड़ दिया। उनके मुंह से खून भी गिरा। इस घटना से सहमे हृदयानंद शर्मा, हरिश्चंद्र प्रजापति, चंद्रमा प्रजापति, रमाकांत गुप्ता, ओम प्रकाश पटेल, पारस प्रजापति व ध्रुव पटेल ने बताया कि गलाघोंटू बीमारी के फैलने की आशंका है। पशुपालन विभाग शीघ्र ही पशुओं का टीकाकरण करवाए।

अज्ञात कार की ठोकर से अधेड़ घायल

थाना क्षेत्र के चतुरछपरा गांव स्थित मुख्य पश्चिमी गंडक नहर के समीप बरवारतनपुर के बाइक सवार राजेश्वर को शुक्रवार को दोपहर में अज्ञात कार की ठोकर से गंभीर रूप से घायल हो गए। अगल-बगल रहे लोगों ने सूचना दी तो स्वजन उन्हें तुर्कहां सीएचसी ले गए, वहां उनका उपचार चल रहा है।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept