बिकरू कांड : गैंगस्टर में पाबंद दोषियों की संपत्ति होगी जब्त, विकास दुबे के करीबियों की तैयार हो रहा ब्यौरा

यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर कानपुर कमिश्नरेट पुलिस ने बिकरू कांड के आरोपितों की संपत्ति जब्त करने के लिए मूल्यांकन शुरू कर दिया है। विकास दुबे के करीबी जिलेदार सिंह की संपत्ति का ब्यौरा तैयार किया है और गोविंद सैनी व राजेंद्र मिश्रा के पास भी अवैध संपत्ति मिली है।

Abhishek AgnihotriPublish: Sat, 22 Jan 2022 09:49 AM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 09:49 AM (IST)
बिकरू कांड : गैंगस्टर में पाबंद दोषियों की संपत्ति होगी जब्त, विकास दुबे के करीबियों की तैयार हो रहा ब्यौरा

कानपुर, जागरण संवाददाता। विधानसभा चुनाव से पहले बिकरू कांड से जुड़े आरोपितों के खिलाफ पुलिस और सख्त कार्रवाई करने की तैयारी में है। पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट में आरोपित बनाए गए सभी आरोपितों की संपत्तियों का मूल्यांकन शुरू कर दिया है। विकास दुबे के सबसे खास विष्णुपाल सिंह उर्फ जिलेदार सिंह की संपत्तियों का मूल्यांकन हो चुका है और उच्चाधिकारियों का निर्देश मिलते ही पुलिस उसकी अवैध संपत्तियों को जब्त कर लेगी।

दो जुलाई 2020 को बिकरू में कुख्यात विकास दुबे के घर दबिश डालने गई पुलिस टीम पर गांव में हमला हो गया था। इस हमले में बिल्हौर के तत्कालीन सीओ देवेंद्र मिश्रा समेत आठ पुलिसकर्मी बलिदान हो गए थे। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी विकास दुबे समेत छह हमलावरों को विभिन्न तिथियों व स्थानों पर हुई मुठभेड़ में ढेर कर दिया था। इस प्रकरण में अक्टूबर 2020 में पुलिस ने करीब चार दर्जन आरोपितों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी। और बाद में बिकरू कांड से जुड़े 30 अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की। जिन 30 लोगों पर पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई की है, उनमें विकास दुबे का खजांची जय बाजपेयी भी शामिल है। थाना नजीराबाद से दर्ज गैंगस्टर एक्ट के मुकदमे में पहले ही जय बाजपेयी की संपत्ति पुलिस कुर्क कर चुकी है।

थाना प्रभारी चौबेपुर कृष्ण मोहन राय ने बताया कि गैंगस्टर में आरोपित बनाए गए अभियुक्तों की संपत्तियों का आंकलन कराया जा रहा है, ताकि उनकी संपत्तियों को जब्त किया जा सके। जिलेदार ङ्क्षसह की संपत्ति का आंकलन लगभग पूरा हो चुका है। एक दो दिन में उसके द्वारा अवैध रूप से अर्जित की गई संपत्ति को सार्वजनिक करते हुए पुलिस जब्तीकरण की कार्रवाई करेगी। इसके अलावा गोविंद सैनी और राजेंद्र मिश्रा के पास भी लाखों की अवैध संपत्तियों की जानकारी मिली है। जैसे-जैसे संपत्तियों का आंकलन होता जाएगा, जब्तीकरण भी होता जाएगा।

इनके खिलाफ लगी गैंगस्टर : धर्मेंद्र उर्फ धीरू, श्यामू बाजपेयी, छोटू शुक्ला उर्फ अखिलेश, राहुल पाल, जहान सिंह, दयाशंकर अग्निहोत्री, शशिकांत पांडेय, शिव तिवारी, विष्णु पाल उर्फ जिलेदार सिंह, राम ङ्क्षसह यादव, रामू बाजपेयी, गोपाल सैनी, उमाकांत उर्फ गुड्डन, शिवम दुबे, बाल गोङ्क्षवद, संजय दुबे, सुरेश वर्मा, अरविंद त्रिवेदी उर्फ गुड्डन, शिवम दुबे उर्फ दलाल, धीरज उर्फ धीरू, मनीष उर्फ बीरू, गोविंद सैनी, रमेशचंद्र यादव, नन्हू यादव, बबलू मुसलमान, राजेंद्र कुमार, सोनू उर्फ सुशील तिवारी, अखिलेश दीक्षित, जयकांत बाजपेयी, प्रशांत शुक्ला उर्फ डब्बू।

Edited By Abhishek Agnihotri

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम