राज्यसभा में सुखराम सिंह यादव ने उठाया बारा टोल प्लाजा को सिकंदरा में शिफ्ट करने का मुद्दा, किसानों के लिए कही ये बड़ी बात

बारा टोल टैक्स की वसूली का कारण पनकी से चकेरी तक बने फ्लाईओवर को बताया जाता है जो कि गलत है। उन्होंने कहा कि कानपुर नगर व देहात बार्डर पर बने टोल प्लाजा पर आए दिन विवाद होता है। इस प्लाजा को सिकंदरा शिफ्ट कर दिया जाए।

Akash DwivediPublish: Tue, 23 Mar 2021 11:44 AM (IST)Updated: Tue, 23 Mar 2021 05:30 PM (IST)
राज्यसभा में सुखराम सिंह यादव ने उठाया बारा टोल प्लाजा को सिकंदरा में शिफ्ट करने का मुद्दा, किसानों के लिए कही ये बड़ी बात

कानपुर, जेएनएन। बारा टोल प्लाजा को सिकंदरा शिफ्ट करने की मांग अब राज्यसभा में भी उठी है। राज्यसभा सदस्य सुखराम सिंह यादव ने शून्यकाल में यह मुद्दा उठाया। साथ ही किसानों के लिए निश्शुल्क फास्टैग की व्यवस्था करने का सुझाव दिया।

राज्यसभा सदस्य ने कहा कि बारा टोल प्लाजा पास करने वाले कस्बों एवं गांवों जैसे झींझक, डेरापुर, पुखरायां से कानपुर आने जाने पर एक तरफ का टोल टैक्स १६० रुपये देना पड़ता है, जिसकी दूरी मात्र पांच से ५० किमी है। बारा टोल टैक्स की वसूली का कारण पनकी से चकेरी तक बने फ्लाईओवर को बताया जाता है जो कि गलत है। उन्होंने कहा कि कानपुर नगर व देहात बार्डर पर बने टोल प्लाजा पर आए दिन विवाद होता है। विवाद से बचने के लिए यह जरूरी है कि इस प्लाजा को सिकंदरा शिफ्ट कर दिया जाए। बारा टोल प्लाजा पर स्थानीय किसानों के वाहनों को टोल टैक्स से छूट देने का उन्होंने सुझाव दिया। कहा कि लोकसभा सदस्य हों या राज्यसभा सदस्य वे पूरे देश के टोल प्लाजा से निश्शुल्क गुजरते हैं। जब यह सुविधा उन्हेंं मिल सकती है तो किसानों को देने में कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। इसी तर्ज पर किसानों को ऐसे फास्टैग की व्यवस्था की जाए, जिससे वे अपने मंडल में निश्शुल्क घूम सकें।

Edited By Akash Dwivedi

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept