जानिए- कानपुर में रोमांचक मोड़ पर टेस्ट मैच ड्रा होने पर क्या बोले कप्तान रहाणे और केन

कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम में भारत और न्यूजीलैंड के बीच टेस्ट मैच में अंतिम दिन और अंतिम गेंद तक रोमांच बरकरार बना रहा। हालांकि मैच ड्रा होने पर दोनों ही टीम के कप्तानों ने अपनी प्रतिक्रिया देकर हालात बयां किए।

Abhishek AgnihotriPublish: Tue, 30 Nov 2021 08:57 AM (IST)Updated: Tue, 30 Nov 2021 08:57 AM (IST)
जानिए- कानपुर में रोमांचक मोड़ पर टेस्ट मैच ड्रा होने पर क्या बोले कप्तान रहाणे और केन

कानपुर, जागरण संवाददाता। लंबे अर्से के बाद कानपुर के ग्रीनपार्क स्टेडियम में भारत और न्यूजीलैंड के टेस्ट मैच को लेकर क्रिकेट प्रेमियों में गजब का उत्साह देखने को मिला लेकिन, अजेय पिच पर रोमांचक मोड़ पर आने के बाद मैच का ड्रा होना उन्हें मायूस कर गया। हालांकि पांच दिवसीय टेस्ट मैच में स्टेडियम में हर दिन दर्शकों की भीड़ रही और अंतिम दिन भी अंतिम गेंद तक मैच का लुत्फ लिया गया। टी-20 सीरिज में जीत के बाद उतरी भारतीय टीम भी पूरी तरह से जीत के लिए तैयार थी और अंतिम क्षणों तक जीत के लिए संघर्ष किया। मैच ड्रा होने पर भारतीय टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे और न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियमसन ने अपनी अलग अलग प्रतिक्रया दी...।

शायद किस्मत नहीं थी हमारे साथ

ग्रीनपार्क टेस्ट मैच में भारतीय टीम ने हर खिलाड़ी ने बेहतर प्रदर्शन किया। जिसके बदौलत रोमांचक मुकाबले में टीम ने ड्रा खेला। मैच के बाद भारतीय टीम के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा कि भारतीय टीम ने एकजुटता से खेला। जिसके कारण टीम को मैच के हर सत्र में सफलता मिलती रही। हालांकि रोमांचक मुकाबले में किस्मत न्यूजीलैंड के पक्ष में रही। हमारी टीम के गेंदबाजों के साथ बल्लेबाजों भी बेहतर प्रदर्शन किया।

मैच में ऋद्धिमान साहा और अक्षर पटेल के साथ श्रेयस और अश्विन की पारियों ने टीम को मजबूत किया। जिसके बदौलत टीम ने पहली पारी में बढ़ बनाई। विराट के अगले मैच में आने से टीम को फायदा मिलेगा। श्रेयस ने टेस्ट के साथ टी-20 व एकदिवसीय मैचों में खुद को साबित किया है। वे अपने पर्दापण टेस्ट में बड़े खिलाड़ी के रूप में उभरे हैं। क्रिकेट के लिए यह टेस्ट मुकाबला बेहतर रहा।

अंतिम बल्लेबाजों ने बचाया मैच

न्यूजीलैंड टीम ने ग्रीनपार्क टेस्ट मैच में बेहतर प्रदर्शन कर टीम को हार से बचाया। मैच के पांचों दिन रोमांचक थे। हर सत्र मैच में उलटफेर कर रहा था। टेस्ट का चैलेंज अंतिम दिन देखने को मिला। यह बातें सोमवार को मैच की समाप्ति के बाद न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलिमयसन ने कही। उन्होंने कहा कि पूरे मैच में हमारे शीर्ष क्रम ने बेहतर प्रदर्शन किया। वहीं, मध्यक्रम की बल्लेबाजी निराशाजनक रही।

स्पिनर की मददगार पिच पर हमारे तेज गेंदबाज साउथी और जेमिसन ने बेहतर प्रदर्शन कर भारतीय टीम को मैच में हावी होने से रोका। मुंबई में होने वाले सीरीज के दूसरे टेस्ट मुकाबले में कीवी टीम पूरी तैयारी और रणनीति के साथ उतरेगी। वहां की पिच और कंडीशन यहां से अलग होगी। जिसमें टीम जीत के लिए प्रयास करेगी। कीवी कप्तान ने कहा कि मैच किसी के भी हक में जा सकता था परंतु हमारी टीम के निचले क्रम खिलाड़ी रचिन रवींद्र और एजाज पटेल ने इस हार से बचाया।

Edited By Abhishek Agnihotri

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept