This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
OK

कानपुर में पिछले वर्ष के मुकाबले 13 करोड़ अधिक राजस्व दिसंबर में जुटाया गया

दिसंबर में इसमें से 567771 लोगों ने अपने रिटर्न फाइल किए। इस तरह 86468 करदाताओं ने इस माह प्रदेश में रिटर्न फाइल नहीं किए। वहीं कानपुर जोन वन में 23105 करदाताओं को रिटर्न फाइल करने थे लेकिन इनमें से 20360 करदाताओं ने ही रिटर्न जमा किए।

Akash DwivediThu, 31 Dec 2020 12:26 PM (IST)
कानपुर में पिछले वर्ष के मुकाबले 13 करोड़ अधिक राजस्व दिसंबर में जुटाया गया

कानपुर, जेएनएन। कैलेंडर वर्ष 2020 का अंतिम दिन है। वाणिज्य कर विभाग ने रिटर्न फाइल करने में जहां सूबे के औसत से अच्छा प्रदर्शन किया है वहीं राजस्व जुटाने में भी कानपुर का औसत प्रदेश के औसत से बेहतर है।नवंबर माह के कारोबार के दिसंबर में रिटर्न फाइल किए जा चुके हैं। पूरे प्रदेश में हर रिटर्न फाइल करने वालों में 13.22 फीसद करदाताओं ने रिटर्न फाइल नहीं किए, जबकि कानपुर जोन वन की स्थिति प्रदेश से बेहतर रही। यहां 11.8 फीसद कारोबारियों ने अपने रिटर्न फाइल नहीं किए। प्रदेश में 24 तारीख तक रिटर्न फाइल किए जाते हैं। अगर आंकड़ों के हिसाब से बात की जाए तो उत्तर प्रदेश में 6,54,239  करदाताओं को हर माह अपना रिटर्न फाइल करना होता है। 

दिसंबर में इसमें से 5,67,771 लोगों ने अपने रिटर्न फाइल किए। इस तरह 86,468 करदाताओं ने इस माह प्रदेश में रिटर्न फाइल नहीं किए। वहीं कानपुर जोन वन में 23,105 करदाताओं को रिटर्न फाइल करने थे, लेकिन इनमें से 20,360 करदाताओं ने ही रिटर्न जमा किए। इसमें अभी 2,745 करदाताओं ने 3बी रिटर्न फाइल नहीं किए। इसी रिटर्न से सरकार को राजस्व मिलता है। राजस्व के नजरिए से देखें तो जोन वन ने 228.18  करोड़ रुपए दिसंबर में राजस्व जुटाया है जबकि पिछले वर्ष दिसंबर में यह 215.26 करोड़ था। इस तरह पिछले वर्ष के मुकाबले 13 करोड़ रुपये अधिक राजस्व दिसंबर में जुटाया गया है।

 

Edited By: Akash Dwivedi

कानपुर में कोरोना वायरस से जुडी सभी खबरे

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!