मैकराबर्टगंज में पाइप लाइन से फूटा फव्वारा, जलभराव

-जल निगम की पाइप लाइन फटने से दस लाख आबादी पीने के पानी को तरसी -गंगा बैराज प्लांट के बं

JagranPublish: Wed, 19 Jan 2022 02:05 AM (IST)Updated: Wed, 19 Jan 2022 02:16 AM (IST)
मैकराबर्टगंज में पाइप लाइन से फूटा फव्वारा, जलभराव

जागरण संवाददाता, कानपुर : मैकराबर्टगंज में मंगलवार दोपहर अचानक सड़क से तेज आवाज के साथ फव्वारा फूट पड़ा। आसपास की सड़कों पर आधा फीट तक पानी भर गया। लोगों में खलबली मच गई। जल निगम ने जानकारी मिलते ही गंगा बैराज प्लांट बंद कर दिया। इसके चलते बैराज प्लांट से रोज होने वाली छह करोड़ लीटर जलापूर्ति रुक गई।

मंगलवार को जलापूर्ति ठप होने से दस लाख लोगों को पेयजल के लिए जूझना पड़ा। कई इलाकों में पीने के पानी का संकट रहा। ठंड में हैंडपंप और सबमर्सिबल पंप से पानी भरने के लिए लोग जूझते रहे। फिलहाल, जलापूर्ति कब सुचारु होगी, अफसर बता नहीं पा रहे हैं। अब तक 700 से ज्यादा लीकेज

जवाहर लाल नेहरू नेशनल अरबन रिन्यूवल मिशन के तहत शहर में 869 करोड़ रुपये खर्च करके पेयजल व्यवस्था की गई है। हालांकि, घटिया पाइपों के चलते पानी घरों तक नहीं पहुंच पा रहा है। पाइप फटने से बीच में ही पानी बह जाता है। अब तक सात सौ से ज्यादा लीकेज हो चुके हैं।

----------

रोड कटिग की स्वीकृति के बाद ही हो पाएगा काम

जल निगम सहायक अभियंता अजमल हुसैन ने बताया कि सड़क पीडब्ल्यूडी की है। खोदाई से पहले रोड कटिग की स्वीकृति लेनी पड़ेगी। इसके बाद ही कार्य शुरू हो पाएगा। मुख्य पाइप लाइन होने के चलते ठीक होने में समय लगेगा।

----------

इन इलाकों में रहेगा संकट

निराला नगर, गोविद नगर, साकेत नगर, बर्रा दो से सात, फूलबाग, मालरोड, कुरसवां, जाजमऊ, सर्वोदय नगर, काकादेव, शास्त्रीनगर, विजय नगर, बेकनगंज, रामबाग, पटकापुर, बिरहाना रोड समेत कई इलाकों में जल संकट रहेगा।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept