Dengue Cases in Kanpur: डेंगू से महिला की मौत, पीडि़तों के आंकड़ों का तीसरा शतक

बिल्हौर के बकोठी गांव निवासी इंद्रनारायण कटियार की 45 वर्षीय पत्नी विमला देवी को छह दिन से बुखार आ रहा था। पहले गांव में ही झोलाछाप को दिखाया। उनके पति इंद्र नारायण ने बताया कि आराम नहीं मिलने पर मंगलवार को लखनऊ स्थित नर्सिंग होम लेकर चले गए थे।

Shaswat GuptaPublish: Fri, 08 Oct 2021 10:20 AM (IST)Updated: Fri, 08 Oct 2021 01:51 PM (IST)
Dengue Cases in Kanpur: डेंगू से महिला की मौत, पीडि़तों के आंकड़ों का तीसरा शतक

कानपुर, जेएनएन। मच्छरों पर अंकुश लगाने पर स्वास्थ्य महकमे का दम फूलने लगा है। मच्छरों के कहर से डेंगू के मरीजों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। गुरुवार को तीन नए मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है, जिससे जिले में डेंगू के मरीजों का आंकड़ा तीसरा शतक पूरा करते हुए 301 पर पहुंच गया। जिससे ग्रामीण अंचल के 239 और शहरी क्षेत्र के 62 डेंगू हो गए हैं। वहीं, बिल्हौर ब्लाक के बकोठी गांव में डेंगू पीडि़त महिला की लखनऊ में मौत हो गई। जिले में लगातार मौतें हो रही हैं, लेकिन स्वास्थ्य महकमे के मुखिया मौतों को खारिज करने में जुटे हैं।

बिल्हौर के बकोठी गांव निवासी इंद्रनारायण कटियार की 45 वर्षीय पत्नी विमला देवी को छह दिन से बुखार आ रहा था। पहले गांव में ही झोलाछाप को दिखाया। उनके पति इंद्र नारायण ने बताया कि आराम नहीं मिलने पर मंगलवार को लखनऊ स्थित नर्सिंग होम लेकर चले गए थे। जांच में डेंगू की पुष्टि हुई थी, वहीं भर्ती कर डाक्टर इलाज कर रहे थे। बुधवार रात इलाज के दौरान मौत हो गई। उधर, सीएमओ डा. नैपाल ङ्क्षसह के मुताबिक तीन में डेंगू की पुष्टि हुई है, उसमें मेडिकल कालेज परिसर और घाटमपुर के शिवपुरी पूर्वी एवं चैनपुरी गांव में एक-एक पीडि़त हैं। 

Edited By Shaswat Gupta

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept