कानपुर के जयपुरिया क्रासिंग पर ओवरब्रिज के निर्माण की राह हुई आसान, मंजूरी मिलते ही काम हुआ शूरू

कानपुर की जयपुरिया रेलवे क्रासिंग की वजह से लगने वाले जाम से लोग परेशान रहते हैं। अब शहर के लोगों को एक राहत देने वाली खबर आई है जयपुरिया क्रासिंग पर ओवरब्रिज का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। रूट डायवर्जन पर काम शुरू हो गया है।

Abhishek VermaPublish: Sat, 22 Jan 2022 04:10 PM (IST)Updated: Sat, 22 Jan 2022 04:10 PM (IST)
कानपुर के जयपुरिया क्रासिंग पर ओवरब्रिज के निर्माण की राह हुई आसान, मंजूरी मिलते ही काम हुआ शूरू

कानपुर, जागरण संवाददाता। जयपुरिया क्रासिंग पर ओवरब्रिज निर्माण के लिए खोदाई का काम अगले हफ्ते से शुरू होगा। पिलर बनाने के लिए फिलहाल सरिया को मोड़ने का काम झाड़ी बाबा पड़ाव पुल के पास शुरू कर दिया है। अब सेतु निगम के अफसर डीसीपी ट्रैफिक से मिलकर रूट डायवर्जन के लिए बात करेंगे। जैसे ही रूट डायवर्ट हो जाएगा वहां पर पिलर निर्माण के लिए खोदाई का काम शुरू हो जाएगा। 59.95 करोड़ की लागत से ओवरब्रिज बनेगा। इसके बन जाने से आठ लाख से अधिक आबादी को लाभ होगा। सेतु निगम जैसे ही अपने हिस्से का काम शुरू करेगा उसके तत्काल बाद रेलवे भी काम शुरू कर देगा। 

जयपुरिया क्रासिंग पर ओवरब्रिज के निर्माण की योजना तीन साल पहले बनी थी, लेकिन प्रोजेक्ट को मंजूरी नहीं मिल पायी। अब मंजूरी मिली है तो 12.59 लाख रुपये का बजट भी आ गया है। सेतु निगम ने इसके निर्माण की जिम्मेदारी खुद ही ली है। ऐसे में निगम प्रबंधन के अभियंता खुद के मजदूरों से सरिया मोड़ने और पिलर की लंबाई और चौड़ाई के अनुसार उसे काटने का काम करा रहे हैं। इस क्रासिंग पर जबरदस्त जाम लगता है। कानपुर-लखनऊ रेल रूट पर यह क्रासिंग स्थित है और इस रूट पर हर दिन सौ से अधिक ट्रेनें गुजरती हैं। इस वजह से ही बार-बार क्रासिंग बंद होती है और इस पर जाम भी लगता है।

जब पुल बनेगा तो यह जाम खत्म हो जाएगा। सेतु निगम के काम शुरू करने के साथ ही वहां से दूर संचार लाइनें शिफ्ट करने और पाइप लाइन, सीवर लाइन हटाने का कार्य संबंधित विभाग शुरू करेंगे। निगम की कोशिश है कि सभी काम एक साथ चलें ताकि प्रोजेक्ट में देरी न हो और यह एक साल में पूरा हो जाए। बिजली के पोल, ट्रांसफार्मर व अन्य सुविधाओं को शिफ्ट करने के लिए सेतु  निगम ने संबंधित विभागों के विभागाध्यक्षों को पत्र भी लिख दिया है। निगम के एक अधिकारी ने बताया कि पिलर के लिए सरिया मोड़ने का कार्य चार जनवरी से अलग- अलग जगहों पर चल रहा है। बहुत ही जल्द वहां खोदाई का काम शुरू होगा। मौके पर ही सरिया मोड़ने का काम होता तो जाम लगता है।

Edited By Abhishek Verma

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम