हाथरस नाइट राइडर्स ने जीता एचपीएल टूर्नामेंट

डीआरबी के मैदान पर सोमवार को खेला गया फाइनल मुकाबला विजेता और उप विजेता टीमों के खिलाड़ियों को दिए गए पुरस्कार।

JagranPublish: Wed, 03 Nov 2021 03:41 AM (IST)Updated: Wed, 03 Nov 2021 03:41 AM (IST)
हाथरस नाइट राइडर्स ने जीता एचपीएल टूर्नामेंट

संवाद सहयोगी, हाथरस : डीआरबी कालेज के मैदान पर सोमवार की शाम को एचपीएल डे नाइट टी-ट्वेंटी क्रिकेट टूर्नामेंट के फाइनल मैच का शुभारंभ जिलाधिकारी रमेश रंजन ने किया। फाइनल मुकाबला हाथरस नाइट राइडर्स व बसंल वारियर के मध्य हुआ। हाथरस नाइट राइडर्स ने आसानी से मुकाबला जीतकर ट्राफी पर कब्जा किया। विजेता व उपविजेता खिलाड़ियों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

टास जीतकर बसंल वारियर के कप्तान ने पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया। हाथरस नाइट राइडर्स ने बीस ओवर में 146 रन बनाए जिसमें कप्तान सौरव गिन्ना 24 रन तथा प्रिस कुमार ने 32 रनों की पारी खेली। स्पिनर गेंदबाज वार्षिक गौर ने अपनी फिरकी गेंदबाजी में बल्लेबाजों को फंसाया। स्पिनर ने चार ओवर में 26 रन देकर चार विकेट लिए। लक्ष्य का पीछा करने उतरे बसंल वारियर के बल्लेबाजों ने सधी शुरुआत की, लेकिन टीम 128 रन ही बना सकी। बीस रन से फाइनल मुकाबला हाथरस नाइट राइडर्स ने जीता। हसीन ने तीन व दीपेश ने दो विकेट लिए। मैन आफ द मैच का पुरस्कार हसीन को दिया गया। टीम ने फाइनल मुकाबले को देखने के लिए काफी क्रिकेट प्रेमी मैदान पर पहुंचे। जमकर हुई आतिशबाजी

फाइनल मुकाबले में जैसे-जैसे हाथरस नाइट राइडर्स की टीम जीत के नजदीक पहुंचती गई, क्रिकेट प्रेमियों ने आतिशबाजी करनी शुरू कर दी। टीम के खिलाड़ियों ने जीत का श्रेय टीम के आनर नितिन बागला को दिया। वरिष्ठ खिलाड़ी नितिन बागला के नेतृत्व में उनकी टीम ने फाइनल मुकाबला जीतकर अपनी ताकत दिखाई।

ये रहे मौजूद : फाइनल मुकाबले के दौरान आयोजक राहुल तिवारी, स्वतंत्र कुमार गुप्त, कुमुद गुप्ता, राघवेंद्र गुप्ता, गौरव पचौरी, प्रवीन उपाध्याय, डा. मनोज शर्मा, आयोग दीपक, सुमित शर्मा, गोपाल पोनिया, रघुकुल तिलक दुबे, मुकुल दीक्षित, चंद्रमोहन, सुजीत पचौरी मौजूद रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept