अहेरिया समाज की मांगों को लेकर अभिलेख जुटाएगी कमेटी

दिल्ली-हावड़ा ट्रैक को आठ घंटे रोककर प्रदर्शन करने की घटना के बाद सतर्कता बरती जा रही है।

JagranPublish: Sat, 18 Dec 2021 12:24 AM (IST)Updated: Sat, 18 Dec 2021 12:24 AM (IST)
अहेरिया समाज की मांगों को लेकर अभिलेख जुटाएगी कमेटी

जागरण संवाददाता, हाथरस: दिल्ली-हावड़ा ट्रैक को आठ घंटे रोककर प्रदर्शन करने की घटना के बाद प्रशासन सक्रिय हो गया। शुक्रवार को डीएम ने अहेरिया समाज के लोगों की बैठक बुलाई। कलक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी रमेश रंजन ने समस्या के समाधान के लिए अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) को कमेटी का गठन करते हुए संबंधित अभिलेखों को तैयार करने के निर्देश दिए।

बैठक के दौरान केंद्र सरकार तथा उत्तर प्रदेश सरकार एवं अन्य राज्य की सरकारों द्वारा जारी किए गए शासनादेशों पर गहनतापूर्ण चर्चा की गई। अहेरिया तथा बहेलिया समाज के लोगों को कब और किस जाति के अंतर्गत चिह्नित किया गया है पर भी चर्चा की गई। जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी न्यायिक की अध्यक्षता में जिला पूर्ति अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी के साथ-साथ अहेरिया समाज के प्रमुख प्रतिनिधियों के साथ कमेटी बनाये जाने के निर्देश दिए गये तथा अहेरिया समाज के प्रमुख प्रतिनिधियों से दो दिन के अंदर आवश्यक समस्त अभिलेखों को कमेटी के समक्ष उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। इससे कि समस्त अभिलेखों को तैयार करते हुए शासन को प्रेषित किया जा सके।

जिलाधिकारी ने कहा कि आपकी समस्या का नियमानुसार समाधान कराया जाना हमारी प्राथमिकता में है, परंतु आपके द्वारा जो कानून व्यवस्था को अपने हाथ में लिया गया है वह एक आपराधिक कृत्य के अंतर्गत आता है। उन्होंने कहा कि रेलवे सेवा अति आवश्यक प्राथमिक सेवाओं के अंतर्गत आती है। बिना किसी अनुमति के रेलवे ट्रैक को रोकना अथवा बाधित करना गंभीर अपराध है जिसके लिए जेल भी हो सकती है। रेलवे ट्रैक को बाधित करने से यात्रियों को हुई असुविधा के लिए आप जिम्मेदार होंगे। जिलाधिकारी ने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि आगे से अगर इस प्रकार का कोई भी कृत्य किसी के भी द्वारा किया जाता है तो उनके विरुद्ध रेलवे तथा प्रशासन द्वारा कड़ी कार्रवाई अमल में लायी जाएगी। उन्होंने जनपद वासियों से आह्वान किया कि जनपद में धारा 144 लागू है इसलिए कोई भी व्यक्ति कानून व्यवस्था को अपने हाथ में लेने का प्रयास न करें। किसी भी प्रकार की समस्या के नियमानुसार समाधान के लिए शासन और प्रशासन आपके साथ है। बैठक में उपस्थित अहेरिया समाज के प्रमुख लोगों एवं अन्य उपस्थित व्यक्तियों ने जिलाधिकारी को आश्वासन दिया कि आगे से इस प्रकार की कोई भी घटना जनपद में नहीं होगी।

बैठक के दौरान अपर जिलाधिकारी न्यायिक मुहम्मद मोइनुल इस्लाम, मुख्य विकास अधिकारी साहित्य प्रकाश मिश्र, जिला विकास अधिकारी अवधेश सिंह यादव, जिला पूर्ति अधिकारी एसपी शाक्य, जिला पंचायत राज अधिकारी जीडी जैन, एडीओ पंचायत उपस्थित रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept
ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम