एक-एक वोट से लोकतंत्र बनता मजबूत

बेहतर और सशक्त जनप्रतिनिधि चुनने के लिए हर व्यक्ति को मतदान करना चाहिए

JagranPublish: Fri, 21 Jan 2022 11:01 PM (IST)Updated: Fri, 21 Jan 2022 11:01 PM (IST)
एक-एक वोट से लोकतंत्र बनता मजबूत

हरदोई: मतदान लोकतंत्र का मौलिक अधिकार मतदान लोकतंत्र का मौलिक अधिकार है। बेहतर और सशक्त जनप्रतिनिधि चुनने के लिए हर व्यक्ति को मतदान करना चाहिए। एक-एक वोट से मजबूत लोकतंत्र बनता है, इसलिए सबसे पहले उठकर मतदान करें।

- शुभ्रांशु श्रीवास्तव, अधिवक्ता जो क्षेत्र का करे विकास, उसे चुने जनप्रतिनिधि

जो जनता की बात सुने और क्षेत्र का विकास करे। उसे ही जनप्रतिनिधि चुनना चाहिए। क्षेत्र का विकास तभी होगा, जब विधानसभा में सही व्यक्ति जनप्रतिनिधि बनकर पहुंचेगा।

- मो.उमैर सिद्दीकी, अधिवक्ता मन की सरकार चुनने को अधिक से अधिक करें मतदान

अपने मन की सरकार को चुनने अधिक से अधिक मतदान करना जरूरी है। यह भी ध्यान रखने की जरूरत है, कि आपके परिवार व आसपास कोई व्यक्ति ऐसा न रहे, जिसने मतदान न किया हो।

- श्रवण सिंह, अधिवक्ता लालच या दबाव में आकर मतदान करना गलत

जो सर्व समाज का भला कर सके, उसे ही अपना जनप्रतिनिधि चुनना चाहिए। किसी के लालच या दबाव में आकर मतदान करना गलत है। उससे आप बेहतर जनप्रतिनिधि नहीं चुन सकते।

- विनय त्रिवेदी, अधिवक्ता

रेंडमाइजेशन से तय की गई कार्मिकों की श्रेणीवार ड्यूटी

- हरदोई : विधानसभा चुनाव के लिए कार्मिकों की श्रेणीवार ड्यूटी तय कर ली गई है। शुक्रवार को जिला निर्वाचन अधिकारी अविनाश कुमार ने एनआइसी में प्रभारी अधिकारी कार्मिक आकांक्षा राना की मौजूदगी में रेंडमाइजेशन कर श्रेणीवार ड्यूटी का निर्धारण कर दिया। बताया कि आयोग के साफ्टवेयर पर आनलाइन रेंडमाइजेशन से पीठासीन अधिकारी और मतदान अधिकारियों की श्रेणी तय कर ली गई है।

जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान के लिए 3499 मतदेय स्थलों पर कार्मिकों की ड्यूटी लगाई जानी है। प्रत्येक पोलिग पार्टी में पीठासीन अधिकारी के साथ तीन-तीन और कार्मिकों की ड्यूटी लगेगी। कार्मिकों के प्रशिक्षण के लिए पीठासीन अधिकारी, मतदान अधिकारी प्रथम, द्वितीय और तृतीय के लिए रेंडमाइजेशन कर श्रेणी का निर्धारण कर दिया गया है।

बताया कि 23 जनवरी से कार्मिकों की ड्यूटी का वितरण विकास भवन सभागार से कराया जाएगा। प्रभारी अधिकारी कार्मिक सीडीओ आकांक्षा राना ने बताया कि ड्यूटी वितरण के लिए सभी विभागाध्यक्षों को जानकारी दे दी गई है। विभागाध्यक्ष अपने-अपने विभाग की ड्यूटी प्राप्त कर कार्मिकों को प्राप्त कराते हुए प्राप्ति रसीद उनके कार्यालय में प्राप्त कराएंगे। बताया कि पीठासीन अधिकारी की श्रेणी निर्धारण के लिए 4335 कार्मिकों की संख्या पर रेंडमाइजेशन किया गया है। जिला सूचना विज्ञान अधिकारी अमित कुमार व हरदेव आदि मौजूद रहे।

Edited By Jagran

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept